क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती 11 संदिग्धों की रिपोर्ट पॉजिटिव

क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती 11 संदिग्धों की रिपोर्ट पॉजिटिव

भोपाल। राजधानी में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने के आंकड़े में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। ऐसा पहली बार हुआ है कि पिछले 7 दिन यानी 7 जून से लेकर 13 जून तक लगातार बड़ी संख्या में पॉजिटिव मरीज मिले हैं, जिससे ये आंकड़ा 467 तक पहुंच गया है और इन 7 दिनों में 7 मौतें भी दर्ज की गई हैं। शनिवार को आई रिपोर्ट में 76 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इस हिसाब से भोपाल में अब तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 2332 तक पहुंच गई है। जबकि, अब तक हुई कोरोना से मौतों की संख्या 71 तक है। हालांकि भोपाल में 54 लोगों को शनिवार के दिन डिस्चार्ज किया गया। इस हिसाब से अब तक 1613 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। इधर, भौंरी में बनाए गए आईसर क्वारेंटाइन सेंटर में मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। शनिवार को क्वारेंटाइन सेंटर से 11 संदिग्धों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पहले यहां नौ मरीज मिले थे। वहीं, नए संक्रमितों में 4 और 8 साल के 2 बच्चे भी शामिल हैं। एम्स में भी एक मरीज पॉजिटिव पाया गया है। पिपलानी, शाहजहांनाबाद, ऐशबाग, जहांगीराबाद इलाके से भी कोरोना संक्रमित मिले हैं।

4 माह के अब्दुल ने कोरोना को हराया

इधर, भोपाल में शनिवार को 54 मरीजों को अलग-अलग अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया। भोपाल के एक निजी अस्पताल से डिस्चार्ज हुई 65 वर्षीय लता बाई चौहान और 4 माह के अब्दुल रूहान समेत 54 व्यक्ति कोरोना संक्रमण से अपनी जिंदगी की जंग जीतकर आज अपने घर रवाना हुए। डिस्चार्ज हुए डॉ. सुरेन्द्र सिंह (34) ने सफल इलाज और समर्पण भाव से की गई सेवा के लिए आभार जताया।

लॉकडाउन के उल्लंघन का आंकड़ा 6 हजार के पार

कोरोना महामारी के चलते जारी लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों का आंकड़ा 6 हजार के पार पहुंच गया है। विगत 22 मार्च से शनिवार 13 जून तक रोजाना औसतन 72 मामले शासकीय आदेशों के उल्लंघन के दर्ज किए गए। इस दौरान दर्ज हुए कुल 6089 प्रकरणों में 6430 लोगों को गिरμतार कर उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की गई। इसी अवधि के दौरान स्थानीय थाना और यातायात पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान कुल 18 हजार 163 लोगों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की गई।