104 परीक्षा केंद्रों पर 12 हजार विद्यार्थी दो पालियों में देंगे आज से 12वीं की परीक्षा

 09 Jun 2020 07:35 AM  3

जबलपुर । कोरोना वैश्विक महामारी के कारण मार्च माह में स्थगित हुई 12 वीं कक्षा की परीक्षाएं मंगलवार से बचे हुए प्रश्नपत्र के साथ फिर से शुरु होगी। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल के निर्देशानुसार और शासन की गाइडलाइन के अनुसार जिला स्कूल शिक्षा विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। एक हॉल में करीब 20 परीक्षार्थियों को ही सोशल डिस्टेसिंग के साथ रखा जाएगा। वहीं एक परीक्षार्थी कोरोना पॉजिटिव है जिसका उपचार मेडिकल में चल रहा है। जिसका इम्तिहान बाद में स्पेशल कराया जाएगा। जिले में कक्षा 12 वीं के 23 हजार परीक्षार्थी है जिसमें से 12 हजार परीक्षार्थी ही एग्जाम देंगे। बाकी विभिन्न विषयों के छात्रों के एग्जाम हो चुके है। जबकि जिले में 104 परीक्षा केंद्र बनाए गए है। जहां थर्मल स्क्रीनिंग करके ही परीक्षार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। परीक्षा केन्द्रों को सेनिटाइज भी किया गया है। 12 वीं कक्षा की परीक्षाएं 9 से 16 जून तक आयोजित की गई है।

प्रवेश पत्र को ही माना जाएगा पास

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी प्रवेश पत्र ही परीक्षार्थियों के परिजनों के लिए पास का कार्य करेगा। जिससे परीक्षार्थियों एवं पालकों को आने-जाने में किसी भी प्रकार का व्यवधान न हो। साथ ही पुलिस विभाग से संपर्क कर परीक्षार्थियों व पालक को प्रवेश पत्र के आधार पर बिना रोक-टोक आने-जाने दिया जाएगा। वहीं प्रत्येक परीक्षा केन्द्रों में आवश्यक मात्रा में मास्क की उपलब्धता रहेगी, जिसकी जिम्मेदारी केन्द्र ध्यक्ष की होगी।

मास्क, पेंसिल प्रवेश पत्र लाना अनिवार्य

जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि परीक्षार्थियों के लिए निर्देश दिए हैं। जिसका पालन करना अनिवार्य है। जिसमें अपना प्रवेश पत्र, पानी की बॉटल,मास्क, सेनिटाइज,पेंसिल,पेन लेकर आना होगा। ताकि कोई किसी से सामग्री न मांगे और न दे। सभी अपना समान उपयोग करे।

एक हॉल में 20 परीक्षार्थी बैठेंगे

बोर्ड परीक्षा के आयोजन को लेकर शिक्षा विभाग द्वारा सभी इंतजाम भी किए गए हैं। सुरक्षा से लेकर संक्रमण से परीक्षार्थियों को बचाने के लिए परीक्षा दो पाली में आयोजित होगी। जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके। पहली शिफ्ट में साइंस के छात्र- छात्राएं सुबह 9 से 12 बजे तक शामिल होंगे। वही दूसरी शिफ्ट में आर्ट परीक्षार्थी शामिल होंगे। जो परीक्षार्थी दूसरे जिले में स्थापित हुए हैं, ऐसे विद्यार्थियों का परीक्षा केन्द्र उनके विकासखंड स्थित शासकीय उत्कृष्ट उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय में बनाया गया है।

शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में टीमें तैनात

हायर सेकंडरी के शेष परीक्षाओं को कोविड-19 की गाइड लाइन के साथ कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग को शासन ने अहम जिम्मेदारी सौंपी है। बोर्ड एग्जाम सेंटरों पर तैनात की जा रहीं हेल्थ टीम इन सेंटरों में एग्जाम में बैठने वाले परीक्षार्थियों को पहले थर्मल स्केनिंग से चेक करेंगी। जिले के शहरी क्षेत्र में 46 व ग्रामीण क्षेत्र 80 एग्जाम टीमें तैनात रहेगी। एक स्वास्थ्य कर्मचारी व कन्टेमेंट क्षेत्र कर्मचारी के साथ एक मेडिकल आफिसर रहेगा, जो कि स्केनिंग करने के बाद ही छात्रों को प्रवेश मिलेगा।

हायर सेंकण्डरी स्कूल की परीक्षाएं मंगलवार से आयोजित हो रही है। जिले में 104 केन्द्रों बनाए गए है जिसमें 12 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। कोरोना संक्रमण को देखते हुए विशेष सावधानी बरतने और सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। - एसके नेमा, जिला शिक्षा अधिकारी