जनशताब्दी से 278 यात्री उतरे, आरपीएफ के जवानों ने कराया सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

जनशताब्दी से 278 यात्री उतरे, आरपीएफ के जवानों ने कराया सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

भोपाल ।  रेलवे ने मंगलवार को 02062- जबलपुर-हबीबगंज जनशताब्दी विशेष एक्सप्रेस से उतरने और चढ़ने वाले यात्रियों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाने के लिए नई व्यवस्था की। ट्रेन आने से 15 मिनट पहले आरपीएफ के जवानों को हबीबगंज स्टेशन पर खड़ा किया गया। इससे ट्रेन से उतरने वाले यात्री भगदड़ न मचाएं, वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा सके। गौरतलब है कि सोमवार को पहली ट्रेन रवाना होते वक्त हालात बिगड़ने की खबर पीपुल्स समाचार ने प्रकाशित की थी। इसके बाद मंगलवार को रेलवे प्रशासन ने व्यवस्था बदली है। सुबह 11 बजे ट्रेन हबीबगंज पर पहुंची तो स्टेशन पर उतरने वाले यात्री आरपीएफ के जवानों को देखकर सकते में आ गए। जवानों ने 278 यात्रियों को स्टेशन पर उतारते हुए उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग में थर्मल स्केनिंग के लिए खड़ा कराया। स्टेशन पर मौजूद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्केनिंग करने के बाद सभी यात्रियों को उनके घर के लिए रवाना किया। इस ट्रेन से जाने वालों को भी आरपीएफ के जवानों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया। सभी के टिकटों की जांच के लिए चेकिंग स्टाफ भी तैनात किया गया था। ज्ञात हो कि सोमवार को जनशताब्दी ट्रेन के हबीबगंज स्टेशन पर पहुंचने के बाद यात्रियों की भीड़ ट्रेन से उतरकर एक जगह खड़ी हो गई थी। इससे सोशल डिस्टेंशिंग के नियम का न तो पालन हो रहा था और न ही उनकी सही तरीके से जांच हो पा रही थी।

विशेष ट्रेन से 302 यात्रियों को पश्चिम बंगाल किया रवाना

भोपाल। भोपाल में फंसे पश्चिम बंगाल के श्रमिकों, विद्यार्थियों, महिलाओं-बच्चों बड़े-बुजुर्गों को उनके घर भेजा जा रहा है। मंगलवार को 302 लोगों को विशेष ट्रेन से उनके घरों के लिए रवाना किया गया। बैरागढ़ रेलवे स्टेशन से रवाना हुई ट्रेन में भोपाल, इटारसी, मंडीदीप, छतरपुर, जबलपुर और कटनी में रहने वाले 302 लोग ही जा सके, जबकि कुल 900 लोगों को रवाना होना था।