टाइगर्स आफ इंडिया थीम पर 32 कलाकार वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए तैयार करेंगे गोंड पेंटिंग

टाइगर्स आफ इंडिया थीम पर 32 कलाकार वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए तैयार करेंगे गोंड पेंटिंग

IamBhopal प्रदेश के 32 गोंड आदिवासी कलाकारों द्वारा मानव संग्रहालय में 75 वाय 4 फीट की पेंटिंग वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए आज से तैयार की जा रही है। टाइगर्स आफ इंडिया थीम पर आधारित इस पेंटिंग में बाघ, जंगल और जनजातीय जीवन को दर्शाया जाएगा, जिसे एक्रेलिक आन कैनवास पर तैयार किया जा रहा है। यह पेंटिंग आजादी के अमृत महोत्सव के तहत पहली बार सामूहिक रूप से इतनी बड़ी बनाई जा रही है। कार्यक्रम का आयोजन मानव संग्रहालय में हेशेल फाउंडेशन द्वारा किया जा रहा है। इस दौरान रचना उत्सव का आयोजन भी होगा।

दो दिन में तैयार होगी पेंटिंग 

यह पेंटिंग दो दिन में तैयार की जाएगी। इसमें गोंड जनजाति और बाघ के रिश्ते को समझाया जाएगा। इसके अलावा पेंटिंग स्थल पर आने वाले लोग भी इस पेंटिंग का हिस्सा बन सकेंगे, जिन्हें रजिस्ट्रेशन के आधार पर पेंटिंग में शामिल किया जाएगा।

आदिवासी और बाघ के साथ रहने की कहानी

इस मौके पर कल्याणी-वैदेही फगरे का ओडिसी, डॉ. मधुलता की शास्त्रीय गायन साहिल कौर द्वारा कथक नृत्य प्रस्तुत किया जाएगा। माता को प्रणाम करते हुए जंगल में प्रवेश के दृश्य को उकेरा जाएगा, इसके बाद लोग जंगल में प्रवेश करके सूखी लकड़ी उठाते हुए दिखाया जाएगा। वहीं जंगल में बाघ दहाड़ते हुए (लोग इधर-उधर देखते हुए)उकेरा जाएगा। वहीं रास्ते में जाते हुए लोगों को एक आदिवासियों का गांव दिखता है। जंगल के बीच पास में ही बाघों की गुफा है। गांव में लोग आदिवासी जनजाति से बात करते हुए यह देखते है कि बैगा समुदाय के लोग और जंगल के बाघ आपस में मिलकर बिना डरे साथ-साथ रहते हैं, तो उनको आश्चर्य होता है कि ये लोग बाघ के साथ कैसे रहते हैं, जहां उनका घर, बैल-बकरी और एक तरफ बाघ का परिवार है। समापन अवसर पर हथकरघा एवं हस्तशिल्प विकास निगम की एमडी अनुभा श्रीवास्तव, संग्रहालय के डायरेक्टर प्रवीण कुमार और महापौर मालती राय उपस्थित रहेंगी।

डिंडौरी, मंडला व पाटनगढ़ के कलाकार करेंगे तैयार

आर्टिस्ट जयप्रकाश धुर्वे ने बताया कि माता के चित्र से पेंटिंग की शुरुआत की जाएगी। इसके बाद आदिवासी व जंगल के साथ बाघ के अलग- अलग दृश्य को जोड़ते हुए पेंटिंग को पूरा किया जएगा। पेंटिंग को बनाने के लिए मप्र के डिंडौरी, मंडला, पाटनगढ़ से आने वाले कलाकार तैयार करेंगे। इसमें 18 पुरुष और 14 महिला कलाकार शामिल है। पेंटिंग को बनाने के लिए गर्भवती महिला पाटनगढ़ की रीता श्याम भी शामिल हो रही हैं।

लाइव वर्कशॉप भी होगी आयोजित

रचना उत्सव में शहर के 75 से अधिक कलाकार शामिल हो रहे हैं, जो कि अपनी-अपनी पेंटिंग को प्रदर्शित करेंगे, साथ ही लाइव वर्कशॉप का भी आयोजन किया जा रहा है। इसमें पेंटिंग बनाने की पूर्ण जानकारी दी जाएगी। साथ ही शहर के स्कूल, कॉलेज और आर्ट स्कूल से शिक्षक और स्टूडेंट्स एक अभिनव आर्ट एग्जीबिशन में हिस्सा ले रहें हैं। सुबह 10.30 से कार्यक्रम शुरू होगा।