नाले की सफाई न होने से 5200 परिवारों का जीवन संकट में

 08 Jun 2020 07:40 AM  3

जबलपुर । नाला सफाई को लेकर बड़े-बड़े दावे करने वाले नगर निगम प्रशासन के लिए कचनार सिटी के रहवासियों की यह शिकायत गौर करने योग्य है जहां के 52 सौ परिवार इन दिनों नाला सफाई न होने के कारण परेशान हैं। पूरे विजय नगर का पानी जॉय स्कूल के पास इकट्ठा होकर 90 कवार्टर होते हुए कचनार सिटी कालोनी के बीच से होते हुए प्रसिद्ध शिव मंदिर के बाजू से होकर रैंगवा स्थित नाले में मिल जाता है। यह नाला कचनार सिटी वासियों के लिए आफत बना हुआ है। पिछले वर्ष लोगों के घर मे घुस गया था तथा सैकड़ो लोगो के घरों का बेशकीमती सोफा सेट,पलंग ,दीवान इत्यादि में रखा सामान खराब हो गया था तो जहरीले साँप इत्यादि भी घरों में घुस गये थे जिससे रहवासी ह़μतों तक सो नही पाए थे।

आधा-अधूरा पक्कीकरण

विजय नगर स्थित 90 कवार्टर के पास से जब यह नाला शुरू होता है तो जेडीए ने कचनार सिटी के प्रवेश द्वार तक पक्का करके अपने काम की इतिश्री कर ली। जेडीए ने जब पूरे विजय नगर का पानी का कनेक्शन इसमे जोड़ा तो इसकी निकासी की व्यवस्था भी उचित ढंग से करनी थी। विजय नगर में जेडीए ने रहवासियों से भरपूर टेक्स तथा भू-फाटक इत्यादि भी खूब लिया है तो इसको विकसित करने की जिम्मेदारी भी जेडीए की थी। अब जेडीए का कहना है कि विजय नगर को नगर निगम के सुपुर्द कर दिया है। अगर समस्या का निराकरण नही होता तो कालोनी के रहवासी विजय नगर का पानी ही कचनार सिटी में नही आने देगे। कचनार सिटी के गेट पर ही नाले को बंद कर दिया जाएगा।

कई बार किया पत्राचार

वर्तमान में नगर निगम को स्थानीय रहवासियों ने अनेक बार पत्राचार किया तथा सीएम हेल्पलाइन भी लगाई कि इस समस्या का निराकरण बरसात के पूर्व कर नाले को पक्का कर दिया जाए पर निगम के अधिकारियों को कोई मतलब नही। अब बरसात शुरू हो रही है,नाले में गहराई करण तथा नाले के साफ सफाई को जेसीबी मशीन से साफ सफाई होनी बहुत जरूरी है तथा बरसात के बाद नाले को पक्का किया जाए।

इन्होंने की नाला पक्का करने की मांग

कचनार सिटी प्रगति मंच के नलिनकांत बाजपेयी, राकेश सुहाने, कृष्णकान्त शर्मा, भूपेंद्र सिंह दुआ,केपी विश्वकर्मा,रमेश चंद्र सोनी,गनेश अवस्थी,सुरेन्द्र अवस्थी, कर्नल डी सी मिश्र ,रविन्द्र पटेल,सुरेन्द्र सिन्हा, हर्षिल पुणतांबेकर,अंकित श्रीवास्तव इत्यादि ने इस पर शीघ्र ही कार्रवाई की मांग की है अन्यथा जनआंदोलन किया जाएगा।