अमेरिकियों को भाया इंडियन स्ट्रीट फूड, बना नंबर-वन रेस्त्रां

अमेरिकियों को भाया इंडियन स्ट्रीट फूड, बना नंबर-वन रेस्त्रां

न्यूयॉर्क। अमेरिका में भारतीय स्ट्रीट फूड के जायके की लज्जत बिखेर रहे मेहरवान ईरानी के रेस्तरां चाय पानी को बेहतरीन रेस्त्रां का खिताब मिला है। इस रेस्तरां को 2022 जेम्स बियर्ड अवॉर्ड्स में अमेरिका का सबसे बेहतरीन रेस्त्रां घोषित किया गया है। रेस्तरां के ओनर का कहना है कि स्ट्रीट फूड में भारत का जायका दिखता है। भारतीय व्यंजनों को उंगलियां चाटने लायक बनाने में बड़ी मेहनत और समय लगता है। इसलिए भारतीय भोजन को पूरी दुनिया में पसंद किया जाता है। सबसे उत्कृष्ट रेस्त्रां का खिताब जीतने वाले मेहरवान सेलिब्रेटी शेफ हैं। जिन्हें कई अमेरिकी न्यूज चैनल और लाखों फॉलोअर्स वाले यू-ट्यूब चैनल के संचालक भी अपने शो में आमंत्रित कर चुके हैं।

विदेशी व्यंजनों की तुलना में बेहतर होते हैं इंडियन फूड

मेहरवान ईरानी का कहना है कि भारतीय फूड अब तक लोकप्रिय हुए मुट्ठी भर विदेशी व्यंजनों की तुलना में कहीं अधिक विविधता से भरे, दिलचस्प और अप्रत्याशित हैं। एक इंटरव्यू में उन्होंने ये भी कहा, स्ट्रीट फूड की तरह भारत के सार को पकड़ने वाला कोई अन्य फूड नहीं है। इंडियन स्ट्रीट फूड, कलरफुल, वाइब्रेंट, इनोवेटिव, जॉयफुल और निश्चित रूप से स्वादिष्ट होता है। लेकिन मेरा मनपसंद स्ट्रीट फूड भेलपूरी है। भेलपूरी से भरी प्लेट मुझे भारत की खुशबू और वहां की आबोहवा का अहसास कराती है।

8 डॉलर में चाट, सबसे सस्ती थाली 17 डॉलर की

मेहरवान ईरानी ने बताया कि चाय पानी रेस्त्रां में किफायती दाम पर खाने-पीने की चीजें परोसी जाती हैं। 40 साल की रिकॉर्ड महंगाई में फंसे अमेरिकियों के बीच उसकी पॉपुलैरिटी का एक राज यह भी हो सकता है। इस रेस्त्रां की एक और स्पेशलिटी वहां बिकने वाली चाट है। चाय पानी में और भी कई ऐसे स्ट्रीट फूड पेश किए जाते हैं, जो भारत में काफी पसंद किए जाते रहे हैं। चाय पानी में चाट के आइटम 8 डॉलर से शुरू होते हैं और सबसे सस्ती थाली 17 डॉलर की है। उन्होंने बताया कि स्पाइसवाला के मसालों में वही मुहब्बत भरी होती है, जो चाय पानी रेस्त्रां और उसके ग्राहकों के बीच है।

खुद को पसंद है भेलपूरी, लोगों को खिलाते हैं पानीपुरी

अपने एक इंटरव्यू में मेहरवान ईरानी ने कहा कि यूं तो उन्हें भेलपूरी पसंद है, लेकिन उनके हाथ की बनाई पानीपुरी का स्वाद अमेरिकी लोगों को इतना भाता है कि करीब पांच हजार पानीपुरी वो हर रोज अपने रेस्त्रां में खिलाते हैं। वहीं सारे विदेशी लोग भारत के पानी के बताशों को चटखारे लेकर खाते हैं।

फूड आइटम्स को स्वादिष्ट बनाते हैं भारतीय मसाले

यूं तो मेहरवान के रेस्त्रां में भारतीय रसोई के वो सारे मसाले मिलते हैं, जो यहां बनने वाले फूड आइटम्स को स्वादिस्ट बनाते हैं लेकिन उनके यहां मिलने वाली चाय भी गजब की है। उनका कहना है कि वो चाय में अदरक डालना पसंद करते हैं। रेस्तरां की एक और मशहूर डिश स्लॉपी जय अब सबसे पॉपुलर फूड आइटम बन चुकी है।

लंदन में जन्मे मेहरवान की भारत में हुई परवरिश

मेहरवान का जन्म लंदन में हुआ था, लेकिन उनकी परवरिश भारत में हुई। मेहरवान ने अमेरिका की साउथ कैरोलिना यूनिवर्सिटी से एमबीए करने के बाद 12 साल आटो इंडस्ट्री में बिताए। काम था कारें बेचना। लेकिन शोहरत की खुशबू कहीं और उनका इंतजार कर रही थी। मेहरवान बताते हैं कि एमबीए करने के बाद वह कैरोलिना से सैन फ्रांसिस्को चले गए। लेकिन आफिस में बैठकर फोन पर निवेशकों से बात करना और उन्हें स्टॉक्स खरीदने के आइडिया देना उन्हें कुछ खास जमा नहीं। उन्हीं दिनों उन्हें लेक्सस की डीलरशिप का एक ऐड दिखा और उन्होंने आटो इंडस्ट्री का रुख कर लिया। कारें बेचने के धंधे से निकलकर मेहरवान ने मसालों और खान-पान की दुनिया में कदम रखा। उन्होंने अपना पहला रेस्त्रां चाय पानी एशविल में 2009 में खोला। दूसरे शहरों में भी चाय पानी की ब्रांच हैं। मेहरवान ने 2017 में स्पाइसवाला की शुरुआत की। इसके जरिए उन्होंने मसाले बेचने शुरू किए। पहले केवल शेस को मसाले सप्लाई किए, लेकिन फिर आगे चलकर आम लोगों के लिए भी दरवाजे खोल दिए।