क्लाइमेट चेंज पर रिसर्च करने अंटार्कटिका पहुंचीं भोपाल की इशानी

क्लाइमेट चेंज पर रिसर्च करने अंटार्कटिका पहुंचीं भोपाल की इशानी

भोपाल। मप्र के भोपाल की इशानी पालंदुरकर अंटार्कटिका एक्सपीडिशन पर गई हैं। 26 वर्षीय इशानी इस अभयिान में जाने वाली मप्र की पहली महिला हैं। वे 2041 क्लाइमेट फोर्स अंटार्कटिका अभियान के लिए चुने जाने वाले दुनिया भर के 150 प्रतिभागियों में से एक हैं। इस अभियान के दौरान अंटार्कटिका संरक्षण के लिए जागरूकता बढ़ाने के लिए उन्होंने 15,000 डॉलर जुटाने के लिए एक साल तक काम किया। यह अभियान क्लाइमेट चेंज पर एक कैपेसिटी बिल्डिंग प्रोग्राम है।