बूस्टर के बाद भी कोरोना हो रहा यानी मेडिकल साइंस फेल

बूस्टर के बाद भी कोरोना हो रहा यानी मेडिकल साइंस फेल

नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव ने एक बार फिर कोरोना वैक्सीन पर विवादित बयान दिया है। केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि बूस्टर डोज लगने के बाद भी अगर किसी को कोरोना संक्रमण होता है तो यह मेडिकल साइंस का फेलियर है। पतंजलि में अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान उन्होंने कहा कि समय के साथ ही अब दुनिया जड़ी-बूटियों की ओर लौटेगी। उनका कहना है कि गिलोय के ऊपर रिसर्च करें और दवाइयां बनाएं तो भारत विश्व में सबसे बड़ी इकोनॉमी बन सकता है। विदित है कि कोविड से जंग के खिलाफ जब देश और दुनिया कोरोना वैक्सीन पर भरोसा कर रही थी, तब उन्होंने ऐलान किया था कि वह संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। उन्होंने योग और आयुर्वेद का डबल डोज को सुरक्षा कवच बताया था।