बर्खास्त बिशप पर ईडी ने कसा शिकंजा, ईओडब्ल्यू से मांगी रिपोर्ट

बर्खास्त बिशप पर ईडी ने कसा शिकंजा, ईओडब्ल्यू से मांगी रिपोर्ट

जबलपुर। मिशनरी की जमीन में फर्जीवाड़ा कर करोड़ों रुपए कमाने वाले बर्खास्त बिशप पीसी सिंह जमानत पर जेल से रिहा हो गए हैं। लेकिन अब ईओडब्ल्यू के बाद ईडी की टीम जांच में जुट गई हैं। बताया जा रहा है कि ईडी भोपाल की एक टीम ने जबलपुर ईओडब्ल्यू से संपर्क किया है। साथ ही अब तक की जांच रिपोर्ट, चार्जशीट और बर्खास्त बिशप पीसी सिंह के खिलाफ दस्तावेज मांगे हैं। रविवार को भोपाल ईडी की टीम अचानक ही जबलपुर पहुंची। टीम ने खुफिया तरीके से कई अहम जानकारियां भी बर्खास्त बिशप पीसी सिंह और उसके परिवार वालों के खिलाफ जुटाई। बताया जा रहा है कि बिशप पीसी सिंह के खिलाफ ईडी बड़ी कार्रवाई कर सकती है। बर्खास्त बिशप पीसी सिंह को 16 जनवरी को हाई कोर्ट से जमानत मिली थी, जिसके बाद 17 जनवरी को वह जमानत पर जेल से बाहर भी आ गए। पीसी सिंह के घर पर छापामार कार्रवाई के दौरान 18 हजार 352 यूएस डॉलर और 118 पौंड जब्त किए थे। इसकी जानकारी जबलपुर ईओडब्ल्यू ने ईडी को दी। इसके आधार पर ही ईडी ने बिशप पीसी सिंह के खिलाफ 30 सितंबर को फेमा के तहत प्रकरण दर्ज किया था। बता दें कि ईओडब्ल्यू की टीम ने 8 सितंबर 2022 को बर्खास्त बिशप पीसी सिंह के नेपियर टाउन स्थित बिशप हाउस पर छापामार कार्रवाई करते हुए उसके घर से एक करोड़ 65 लाख रुपए नगद समेत विदेशी मुद्रा और कई अहम दस्तावेज बरामद किए थे। ईओडब्ल्यू की टीम ने 11 सितंबर को बर्खास्त बिशप पीसी सिंह को नागपुर एयरपोर्ट से गिरμतार किया था। इसके बाद जबलपुर डायोसिस ने 7 नवंबर 2022 को उसे बिशप के पद से बर्खास्त कर दिया था।