नेशनल पार्कों में बसे वनवासी दूसरे गांवों में होंगे विस्थापित

नेशनल पार्कों में बसे वनवासी दूसरे गांवों में होंगे विस्थापित

भोपाल। प्रदेश के नेशनल टाइगर रिजर्व में बसे वनवासियों को अन्य ग्रामों में स्थापित किया जाएगा और इनके लिए रोजगार के साथ सभी बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। यह फैसला लेते हुए वन मंत्री विजय शाह ने विभाग के संबंधित अधिकारियों से पूरा प्लान तैयार करने को कहा है। वन मंत्री ने कहा कि शासन वन ग्रामवासियों की समस्याओं का निराकरण करने के साथ उनको विकसित जीवन शैली से जोड़ने का प्रयास करेगा। वन मंत्री ने कहा कि प्रदेश के वन ग्रामों में रहने वाले लोग बेहतर जीवनयापन कर सकें, इस दिशा में सार्थक पहल की गई है। उन्होंने कहा कि वन, वन्यप्राणी और वनवासियों को सुरक्षित रखने के हरसंभव प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 से 2018 के बीच किये गये प्रयासों का परिणाम है कि मप्र को एक बार फिर टाइगर स्टेट का दर्जा मिला है। शाह ने अधिकारियों से विभागीय योजनाओं की भी जानकारी ली।