इजरायल की मदद से बागवानी केंद्रों का हो रहा है बेहतर संचालन: तोमर

इजरायल की मदद से बागवानी केंद्रों का हो रहा है बेहतर संचालन: तोमर

यरुशलम। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और इजरायल के कृषि एवं ग्रामीण विकास मंत्री ओडेड फोरर के बीच बुधवार को संसद भवन यरुशलम में गोलमेज बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान दोनों देशों में कृषि विकास की क्षमता के मद्देनजर कृषि, जल प्रबंधन, पर्यावरण एवं ग्रामीण विकास में आधुनिक तकनीकों, क्षमता निर्माण, ज्ञान हस्तांतरण और समर्थन के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। तोमर ने उम्मीद जताई कि इजरायल के सहयोग से भारत में उत्कृष्टता केंद्रों का बेहतर संचालन हो रहा है, जो आगे सभी राज्यों में स्थापित किए जा सकेंगे।

भारतवंशी किसान के खेत का किया दौरा: इससे पहले केंद्रीय मंत्री तोमर समेत भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने वहां कृषि अनुसंधान संगठन (एआरओ), इजरायल कृषि एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय के वोल्कानी इंस्टीट्यूट का दौरा किया। तोमर ने तेल अवीव से दूर रेगिस्तानी बुटीक फार्म, बीअर मिल्का का भी दौरा किया, जिसका स्वामित्व नेगेव रेगिस्तानी क्षेत्र के भारतीय मूल के किसान शेरोन चेरी के पास है। एआरओ शुष्क क्षेत्र की कृषि पर ध्यान केंद्रित करता है। इससे इजरायल विश्व में कृषि उत्पादन के उच्चतम स्तर की प्राप्ति में, कृषि के लिए अपेक्षित सभी प्रकार के संसाधनों वाला देश माना जाता है। एआरओ बेहतर कृषि पद्धतियों को बढ़ावा देने में शामिल विभिन्न संस्थानों तथा संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) के साथ घनिष्ठ संबंध रखता है।