आईपीएल : गंभीर ने बताया धोनी और कोहली की कप्तानी का फर्क

आईपीएल : गंभीर ने बताया धोनी और कोहली की कप्तानी का फर्क

नई दिल्ली। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) 2008 से अबतक इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खिताब नहीं जीत पाई है।  अब आरसीबी 13वें संस्करण के लिए अपनी कमर कस रही है। 2019 में टीम अंतिम स्थान पर रही थी। कोहली पिछले तीन सीजन से टीम के कप्तान हैं, लेकिन स्थितियां ना बदलीं ना बेहतर हुईं। 
कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर इसका कारण बताते हुए कहा- विराट कोहली का कहना है कि जब कप्तान के रूप में आप टीम से संतुष्ट हों तो आपके जेहन में यह साफ होता है कि प्लेइंग इलेवन क्या होगी। जब आप संतुष्ट होते हैं तो आपके मन में शांति रहती है। तब आप यह जानने की कोशिश नहीं करते कि प्लेइंग इलेवन बेस्ट क्या हो सकता है। 
गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में कहा-मुझे अब भी लगता है कि आरसीबी की बल्लेबाजी भारी है। गेंदबाज इसलिए खुश रहते हैं कि उन्हें चिन्नास्वामी स्टेडियम में सात मैच नहीं खेलने। गंभीर ने महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली की कप्तानी के फर्क को भी बताया। वह चाहते हैं कि कोहली पहले 6-7 मैचों में प्लेइंग इलेवन को एक जैसा रहने दें। 
धोनी पहले 6-7 मैचों में वही टीम रखते हैं और आरसीबी लगातार प्लेइंग इलेवन में बदलाव करती है। लिहाजा उनकी टीम में संतुलन नहीं बैठ पाता। इसलिए मैं चाहता हूं कि यदि आरसीबी की अच्छी शुरूआत नहीं होती तब भी उन्हें 6-7 मैचों में वही प्लेइंग इलेवन खिलानी चाहिए।