हार्ट को स्वस्थ रखना है तो एक घंटे से कम देखें टीवी

हार्ट को स्वस्थ रखना है तो एक घंटे से कम देखें टीवी

लंदन। लगातार टीवी देखते रहने की आदत खत्म कर हजारों लोगों को ह्दय रोग होने के खतरे से बचाया जा सकता है। कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने लोगों को रोजाना एक घंटे से कम टीवी देखने की सलाह दी है। वैज्ञानिकों ने यह पाया है कि ऐसे लोग जो लंबे समय तक टीवी देखते हैं, उनमें ह्दय रोग होने की संभावना 16 प्रतिशत ज्यादा होती है। कैलकुलेशन्स से यह पता चला है कि लोगों के टीवी देखने की अवधि को कम करवा दिया जाए तो हर दस में से एक व्यक्ति को इस घातक रोग से बचाया जा सकता है। विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि यदि कोई व्यक्ति अपनी टीवी देखने की आदत को कम नहीं कर पा रहा है तो ऐसे लोगों को बीच-बीच में उठकर चहलकदमी कर लेनी चाहिए, जिससे कि लगातार बैठे रहने के अंतराल को कम किया जा सके।

चिप्स, चॉकलेट जैसे अल्पाहार से भी बचें

हांगकांग यूनिवर्सिटी की टीम के साथ किए गए इस अध्ययन में शामिल विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि टीवी देखने के दौरान लोगों को चिप्स एवं चॉकलेट जैसे अल्पाहार लेने से भी बचना चाहिए। अध्ययन के लीड रिसर्चर डॉ. यूंगवन किम का कहना है कि इन सभी एहतियाती उपायों को अपना कर आप कोरोनरी हार्ट डिजीज के जोखिम से बच सकते हैं। सीने में दर्द एवं सांस लेने में समस्या इस रोग के आम लक्षण हैं। इससे हार्ट अटैक एवं स्ट्रोक का जोखिम बढ़ जाता है।

11% लोगों में रोकी जा सकती है हार्ट डिजीज

यदि लोग रोज एक घंटे से कम समय तक टीवी देखते हैं तो 11 प्रतिशत लोगों में हार्ट डिजीज रोकी जा सकती है। रिसर्च के तहत ब्रिटेन के 3,73,026 लोगों के हेल्थ डाटा का विश्लेषण किया गया। इन लोगों के स्वास्थ्य पर 13 साल तक नजर रखने से पता चला कि ऐसे लोग जो एक घंटे से कम टीवी देखते थे, उनमें कोरोनरी हार्ट डिजीज होने की संभावना उन लोगों की तुलना में 16 प्रतिशत कम रही जो लोग घंटों टीवी देखते थे।