वर्कशॉप में बच्चों ने सीखी लोक कलाओं की चित्रकारी और शब्दों का सही उच्चारण करना

वर्कशॉप में बच्चों ने सीखी लोक कलाओं की चित्रकारी और शब्दों का सही उच्चारण करना

जवाहर बाल भवन के चित्रकला प्रभाग में शाहबानो के निर्देशन व धर्मेंद्र मेवाडे द्वारा बच्चों के लिए पेपर मेशी कार्यशाला का आयोजन किया गया। विशेषज्ञों द्वारा बच्चों को विभिन्न प्रदेशों की पारंपरिक लोक कलाओं की चित्रकारी से परिचित कराते हुए उन्हें प्रशिक्षण दिया गया। कार्यशाला में लगभग 30 बच्चों ने भाग लिया। इसके अलावा आधुनिक अभिनय कला प्रभाग में संघरत्ना बनकर के निर्देशन में विशेषज्ञ अमित प्रताप सिंह द्वारा बच्चों के लिए संवाद कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान बच्चों को नाटक में प्रयोग होने वाले शब्दों का सही उच्चारण करना, ठहराव के साथ बोलना एवं नाटक करते समय बड़ी स्पीच कैसे बोलना है आदि सिखाया गया। इस अवसर पर कार्यशाला में 30 बच्चों ने भाग लिया। कार्यशाला के दौरान जवाहर बाल भवन के संचालक डॉ. उमाशंकर नगायच एवं सहायक संचालक अंजू श्रीवास्तव ने बताया कि इस कार्यशाला का उद्देश्य बच्चों को घर की दीवारों को लोक कलाओं की चित्रकारी करना सीखाना व इस विषय में रूचि पैदा करना रहा।