गुटखा कारोबारी राजू गुप्ता के 29 ठिकानों पर आयकर के छापे

गुटखा कारोबारी राजू गुप्ता के 29 ठिकानों पर आयकर के छापे

भोपाल। आयकर विभाग की छापामार विंग ने गुरुवार को ग्वालियर- चंबल अंचल में राजश्री गुटखा के मुख्य डिस्ट्रीब्यूटर राज कुमार गुप्ता के 29 ठिकानों पर एक साथ छापे की कार्रवाई शुरू की है। ग्वालियर, मुरैना, शिवपुरी और दतिया में गुप्ता के सभी परिजन और कारोबार के साझीदारों के यहां छानबीन में करोड़ों रुपए की टैक्स चोरी से जुड़े साक्ष्य मिले हैं। करीब डेढ़ करोड़ रुपए से अधिक नकदी, बेशकीमती आभूषण और प्रॉपर्टी के दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। ग्वालियर- चंबल क्षेत्र में गुप्ता का बड़ा कारोबार है। चारों जिलों में फैले उसके सभी ठिकानों को आयकर अफसर और सुरक्षा बलों ने अपने कब्जे में ले लिया है। राजू राजश्री के नाम से पूरे क्षेत्र में फैमस राजकुमार गुप्ता के यहां करोड़ों रुपए मूल्य की प्रॉपर्टी के दस्तावेज भी मिले हैं। कच्ची रसीदों पर करोड़ों का लेनदेन मिला है। इनमें प्रॉपर्टी के दस्तावेज भी हैं। विभाग की इस छापामार कार्रवाई में करीब 125 विभागीय अधिकारी-कर्मचारी और करीब 150 सुरक्षा कर्मियों का बल तैनात किया गया है।

300 करोड़ का है कारोबार

टैक्स चोरी की शिकायतों को लेकर विभाग की इस ग्रुप पर लंबे समय से नजर थी। गुप्ता के ठिकानों पर छानबीन में ज्यादातर नकदी लेनदेन मिला है। ग्रुप का करीब 300 करोड़ रुपए का कारोबार फैला हुआ है। आयकर विभाग ने गुप्ता के पिछले कई सालों की बैलेंस शीट और आयकर विभाग को सौंपा गया ब्योरा भी निकाला है। नकदी लेनदेन की कच्ची रसीदों के साथ बोगस खर्चों का ब्योरा भी मिला है।

छापे से हड़कंप, भाई बाथरूम में छिपा!

सुबह करीब 6 बजे ग्रुप के सभी 29 ठिकानों पर जैसे ही आयकर विभाग की छापामार टीम ने एक साथ धावा बोला सभी जगह हड़कंप मच गया। पुलिस जवानों के साथ आईटी अफसरों की टीम देख गुप्ता का एक भाई तो छत पर जाकर छिप गया, जबकि एक अन्य भाई ने अपने आपको बाथरूम में बंद कर लिया। बड़ी समझाइश के बाद वह बाथरूम से बाहर निकला।