इस सप्ताह रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा पर रहेगी निवेशकों की नजर

इस सप्ताह रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा पर रहेगी निवेशकों की नजर

मुंबई। अमेरिकी फेड रिजर्व के अगले माह से ब्याज दरों में वृद्धि की रफ्तार धीमी करने के संकेत से हुई जबरदस्त लिवाली की बदौलत बीते सप्ताह पौने तीन प्रतिशत की तेजी पर रहे घरेलू शेयर बाजार में अगले सप्ताह रिजर्व बैंक (आरबीआई) की प्रस्तावित मौद्रिक नीति समीक्षा पर निवेशकों को नजर रहेगी। बीते सप्ताह बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1498.05 अंक की छलांग लगाकर सप्ताहांत पर तीन माह के उच्चतम स्तर 57570.25 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 438.8 अंक उछलकर 17 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार 17158.25 अंक पर पहुंच गया। समीक्षाधीन अवधि में दिग्गज कंपनियों की तरह बीएसई की छोटी और मझौली कंपनियों में भी जमकर लिवाली हुई। सप्ताहांत पर मिडकैप 390.53 अंक की तेजी लेकर 24050.90 अंक स्मॉलकैप 282.97 अंक मजबूत होकर 27056.38 अंक पर रहा।

शीर्ष 10 में से 8 कंपनियों का मार्केट कैप 1.91 लाख करोड़ रुपए बढ़ा

नई दिल्ली। सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह सामूहिक रूप से 1,91,622.95 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी हुई। सबसे ज्यादा लाभ में बजाज फाइनेंस और टाटा कंसल्टेंसी सविर्सेज (टीसीएस) रहीं। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,498.02 अंक या 2.67 प्रतिशत के लाभ में रहा। सेंसेक्स की कंपनियों मे बजाज फाइनेंस का बाजार पूंजीकरण 57,673.19 करोड़ रुपए बढ़कर 4,36,447.88 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। टीसीएस के बाजार मूल्यांकन में 47,494.49 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ और यह 12,07,779.68 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

रेपो दर में 0.25 से 0.35 प्रतिशत की वृद्धि कर सकता है रिजर्व बैंक : विशेषज्ञ

मुंबई। अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी के कुछ दिन बाद भारतीय रिजर्व बैंक भी प्रमुख नीतिगत दर रेपो में 0.25 से 0.35 प्रतिशत की वृद्धि कर सकता है। विशेषज्ञों का मानना है कि मुद्रास्फीति पर अंकुश के लिए केंदीय बैंक आगामी मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में रेपो दर बढ़ा सकता है। केंद्रीय बैंक पहले ही अपने नरम मौद्रिक रुख को धीरे-धीरे वापस लेने की घोषणा कर चुका है। एमपीसी की तीन दिन की द्विमासिक बैठक तीन अगस्त से शुरू हो रही है।