झुनझुनवाला कहते थे मौसम और मौत का अनुमान नहीं लगा सकते

झुनझुनवाला कहते थे  मौसम और मौत का अनुमान नहीं लगा सकते

 नई दिल्ली । इसमें कोई शक नहीं कि दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला ने भारतीय शेयर बाजार की छवि को बदला। वे भारतीय बाजार के नए ‘बिग बुल’ कहलाए। वह अक्सर निवेशकों को अटकलबाजी से बचने और शेयरों के बारे में पूरी पड़ताल करने की सलाह देते थे। झुनझनवाला कहा करते थे कि कोई भी शख्स मौसम, मौत और बाजार के बारे में कोई अनुमान नहीं लगा सकता है। वाजपेयी समेत 3 दिग्गजों को डिनर देने का सपना: राकेश झुनझुवाला ने एक बार मीडिया से बातचीत में बताया था कि वे ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल, भारत के पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी और अमेरिका के बड़े निवेशक जॉर्ज सोरोस को अपने नए घर पर डिनर पर बुलाना चाहते हैं। उन्होंने कहा था कि ये उनका सपना है, लेकिन वे जानते हैं कि ये अब कभी पूरा नहीं हो सकता।

पीएम से सिकुड़न वाली शर्ट पहनकर मिले

बेफ्रिकी के साथ लोगों से मिलना, खुलकर अपनी बात करना और चुटीला अंदाज राकेश झुनझुनवाला की खासियत रही। कई मुद्दों पर उनका नजरिया सत्तारूढ़ सरकार के रुख से मेल खाता था। यही वजह है कि पिछले साल जब वह पीएम मोदी से सिकुड़न वाली शर्ट पहनकर मिलने पहुंचे, तो किसी को भी ज्यादा अचरज नहीं हुआ। यही नहीं, केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से मिलने वह μलोटर्स पहनकर पहुंच गए थे।

बॉलीवुड की तीन फिल्मों को किया प्रोड्यूस

राकेश झुनझुनवाला फिल्मों के भी शौकीन थे। उन्होंने श्रीदेवी की फिल्म 'इंग्लिश विंग्लिश', करीना कपूर और अर्जुन कपूर की फिल्म 'की एंड का' और अमिताभ बच्चन, धनुष और अक्षरा हासन की फिल्म 'शमिताभ' को प्रोड्यूस किया।

शराब और सिगार से बचना चाहते थे

झुनझुनवाला शराब और सिगार का सेवन करते थे। उन्होंने कहा भी था कि मुझे कड़े अनुशासन का पालन करने की जरूरत है। मैं डायबिटिक हूं और मछली की तरह पीता हूं। मैं अपने जुड़वा बच्चों को 25 साल का होता देखना चाहता हूं।