कर्नाटक सरकार का दावा हमारे यहां जन्मे हनुमानजी

कर्नाटक सरकार का दावा हमारे यहां जन्मे हनुमानजी

बेंगलुरु। कर्नाटक सरकार का दावा है कि हनुमानजी का जन्म प्रदेश के उत्तरी हिस्से में हंपी के पास किष्किंधा में आंजेयानांद्रि पहाड़ी पर हुआ था। इसके चलते मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने भव्य हनुमान मंदिर बनाने का आदेश दिया है। यह मंदिर अंजेयनाद्रि पर्वत पर बनाया जाएगा। बताया जा रहा है कि यह मंदिर अयोध्या में बनाए जा रहे राममंदिर की तर्ज पर बनाया जाएगा। विदित है कि कर्नाटक में 2023 में मई से पहले विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में भाजपा इस मंदिर का लाभ चुनाव में लेने चाहेगी।

राज्य सरकार का टूरिज्म कॉरिडोर से जोड़ने का प्लान

कर्नाटक सरकार अयोध्या के राम मंदिर को यहां हनुमान मंदिर से टूरिज्म कॉरिडोर के जरिए जोड़ना चाहती है। इसके लिए इस हनुमान मंदिर को और भव्य बनाने की योजना है। यह मंदिर तुंगभंद्रा नदी के किनारे है और वर्ल्ड हेरिटेज हंपी से महज 20 किमी की दूरी पर है। मान्यता है कि हंपी ही रामायण का किष्किंधा है, जहां वानरों का साम्राज्य था। मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 जुलाई के बाद वह एक अन्य रिव्यू मीटिंग के लिए इस जगह का दौरा करेंगे।