ऑनलाइन वर्कशॉप में सिखा रहे गोबर, मिट्टी- बीज और सुपारी के गणेश बनाना

ऑनलाइन वर्कशॉप में सिखा रहे गोबर, मिट्टी- बीज और सुपारी के गणेश बनाना

पिछले कई साल से शहर में मिट्टी के गणेश बनाने की कार्यशालाओं का आयोजन चल रहा है। इसमें महिलाएं, बच्चे और बड़े सभी उत्साह से अपने-अपने गणपति बनाते थे, लेकिन इस बार लोग अपने-अपने घर में ही गणपति बना सकेंगे। जो लोग पिछली वर्कशॉप्स में मिट्टी के गणपति बनाना नहीं सीख पाए थे, उन्हें भी निराश होने की जरूरत नहीं, क्योंकि गायत्री मंदिर से ऑनलाइन मिट्टी गणेश मेकिंग मास्टर क्लास चल रही है। मप्र हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम पहली बार गोबर व मिट्टी से बने गणपति उपलब्ध कराएगा। वहीं, शहर लघु उद्योग भारती 10 अगस्त से ईको फ्रेंडली बीज गणेश बनाना सिखाने की वर्कशॉप और बिक्री शुरू करेगी।

गणपति बनाने के वीडियो वॉट्सएप पर करते हैं शेयर

युवा प्रकोष्ठ एवं महिला प्रकोष्ठ के माध्यम से गणेश प्रतिमाएं बनाने का काम शुरू किया जा चुका है। पूरे प्रदेश के अलग-अलग जिलों से कई लोग इसमें हिस्सा ले रहे हैं। स्वावलंबन एवं आत्मनिर्भर भारत अभियान-गायत्री परिवार के अंतर्गत ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

नि:शुल्क वीडियो भेज रहा हूं

मेरे पास गणेश जी की मूर्तियों के लिए ऑर्डर आना शुरू हो चुके हैं। पांच अलग-अलग तरह के डिजाइन की मिट्टी की मूर्ति बना रहा हूं। इसके अलावा नि:शुल्क वीडियो भी लोगों के साथ शेयर कर रहा हूं, ताकि छोटे-छोटे गणपति लोग आसानी से घर पर ही बना सकें। मैं उनके साथ आसान टिप्स शेयर करता हूं,ताकि घर पर ही मूर्ति बना सकें।

मृगनयनी में 8 से मिट्टी के गणपति

निगम द्वारा शिल्पियों से बात की गई है, वे इस बार गोबर व मिट्टी से गणपति बनाएंगे। यह गणपति शहरवासी ‘मृगनयनी’ स्टोर्स से ले सकेंगे। कोशिश होगी कि 8 अगस्त से स्टोर्स से गणपतिजी की मूर्ति पूजन के लिए मिलना शुरू हो जाए।

वर्कशॉप और बिक्री दोनों के लिए काम

हम 10 अगस्त से वर्कशॉप व बिक्री दोनों शुरू करेंगे। लॉकडाउन खुल गया तो सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मूर्ति बनाने का प्रशिक्षण देंगे। हम हर साल बीज गणेश बनाते हैं । इस पहल के जरिए महिलाओं को रोजगार भी मिलता है।