6 लाख का पैकेज छोड़ खोली पान की दुकान, 70 लाख है टर्नओवर

6 लाख का पैकेज छोड़ खोली पान की दुकान, 70 लाख है टर्नओवर

इंदौर। इंदौर के चुनिंदा प्रतिष्ठानों को भले ही शासन 24 घंटे खुला रखने के प्रयासों को अमलीजामा पहनाने में जुटा हुआ है। इधर, शहर के बीच एक युवा ऐसा भी है, जो वीकेंड पर 20 घंटे तक तो, सामान्य दिनों में 15-16 घंटो तक अपनी पान की दुकान खुली रखता है। स्कूल टाइम में शादी-पार्टियों में पान स्टाल पर काम करने का अनुभव दिल-दिमाग पर ऐसा छाया कि एमबीए करने के बाद उन्होंने पान और पान मसाला बिक्री को पेशा बना लिया। पांच भाषाओं की समझ रखने वाले आदित्य ने एलआईजी चौराहे पर 2019 में पान की दुकान खोली। आज वह इस दुकान से 1 लाख रुपए प्रतिमाह तक कमा रहे हैं।

एक दुकान से हुइ दो दुकानें, तीसरी की तैयारी

25 वर्षीय आदित्य ने अपनी एक दुकान को दो प्रतिष्ठान में बदल लिया है। महज 20 हजार रुपए की पूंजी से वर्ष 2019 में लक्जरी पान शॉप शुरू की। औसतन प्रतिदिन 20 हजार के टर्नओवर का टारगेट हासिल करने के बाद दूसरी दुकान विजय नगर में फरवरी 2022 में शुरू की। दोनों दुकानों में 300 से ज्यादा पान, पान मसाले की विविधता भरे उत्पाद उपलब्ध हैं। बिजनेस का सालाना टर्नओवर 70 लाख रु. से ज्यादा है।

सफलता का सूत्र : पेशा वो चुनो, जिसमें आनंद मिले

मुलत: गुना के निवासी आदित्य बताते हैं कि आर्थिक तंगी की वजह से स्कूल में पार्ट टाइम काम किया। ग्रेजुएशन करते समय नौकरी की और पीजी होते ही मल्टीनेशनल कंपनी में 50,000 रु. प्रतिमाह जॉब का मिला। बिजनेस की समझ नहीं थी, इसलिए पान शॉप शुरू की। आज 10 रु. से लेकर 1,100 रु. तक के पारंपरिक पान हो या चॉकलेट के 10 से ज्यादा लेवर वाले पान, हम इंदौर में स्थापित नाम के रूप में बढ़ रहे हैं।