अभी देश में पॉजिटिविटी दर 8.07% है, इसे 5%तक नीचे लाना ही उद्देश्य : केंद्र

अभी देश में पॉजिटिविटी दर 8.07% है, इसे 5%तक नीचे लाना ही उद्देश्य : केंद्र

नई दिल्ली। भारत में कोरोना से 11 लाख 55 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। वहीं अब तक 28 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय में विशेष कार्य अधिकारी राजेश भूषण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कोरोना पॉजिटिविटी दर 5% तक नीचे लाना ही अंतिम लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि भारत में आज भी 10 लाख जनसंख्या पर कोरोना मामलों की संख्या 837 है, जो विश्व के बड़े देशों की तुलना में काफी कम है। उन्होंने कहा कि कुछ देश तो ऐसे हैं, जहां भारत की तुलना में प्रति 10 लाख जनसंख्या पर 12 या 13 गुणा मामले हैं। उन्होंने कहा कि अगर प्रति 10 लाख जनसंख्या पर मृत्यु दर को देखें तो यह भारत में 20.4 है। यह भी विश्व में सबसे कम मृत्यु दरों में से है। वहीं उन्होंने बताया कि भारत की कोरोना संक्रमण की पॉजिटिविटी दर 8.07% है और 30 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों की कोरोना पॉजिटिविटी दर राष्ट्रीय औसत से कम है।

भारत में प्रति दिन प्रति 10 लाख जनसंख्या पर 180 टेस्ट

राजेश भूषण ने कहा कि वर्तमान में हम भारत में प्रति दिन प्रति 10 लाख जनसंख्या पर 180 टेस्ट कर रहे हैं। जबकि डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन के अनुसार10 लाख की आबादी पर 140 टेस्ट होना चाहिए। इसबीच उन्होंने कहा कि देश में वास्तविक कोविड सक्रिय मामलों का आंकड़ा 4,11,242 है, दूसरी तरफ 7,52,393 के लगभग लोग पूरी तरह ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।

दिल्ली की 23%जनसंख्या में बनी एंटीबॉडी

वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र के निदेशक डॉ. सुजीत कुमार सिंह ने कहा कि दिल्ली की 23 प्रतिशत जनता में अब तक कोरोना के खिलाफ एंटीबॉडी बन चुकी हैं। उन्होंने कहा कि इसके बाद भी दिल्ली की 77 प्रतिशत जनता हाई रिस्क पर है। उन्होंने बताया कि यह जानकारी सीरो के सर्वे के माध्यम से आई है। उन्होंने बताया कि जरूरी नियमों को लागू करने के चलते दिल्ली में संक्रमितों की संख्या सीमित करने में कामयाबी मिली है।