महिला अरक को गोली मारने के बाद टीआई ने खुद को गोली मारी, मौत

महिला अरक को गोली मारने के बाद टीआई ने खुद को गोली मारी, मौत

इंदौर। इंदौर पुलिस कंट्रोल रूम में शुक्रवार दोपहर 58 वर्षीय पुलिस इंस्पेक्टर हाकमसिंह पंवार ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। इससे पहले उन्होंने एएसआई रंजना खांडे को गोली मारी, जिससे वह भी घायल हो गर्इं। कनपटी पर गोली लगने से मौके पर ही पंवार की मौत हो गई। घायल महिला एएसआई को एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत खतरे से बाहर है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और एफएसएल ने जांच शुरू की। एक प्रत्यक्षदर्शी महिला पुलिसकर्मी ने बताया हाकमसिंह महिला एसआई से मिलने पहुंचे थे, जिसके बाद परिसर में ही यह घटनाक्रम हुआ। मृतक पंवार भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में प्रभारी के रूप में पदस्थ थे और दो दिन की छुट्टी लेकर इंदौर आए थे। घटना में घायल एएसआई इंदौर कंट्रोल रूम में ही पदस्थ हैं।

आरक्षक से भर्ती हुए थे पंवार

पंवार के सहयोगी एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि भोपाल से पहले पंवार इंदौर, राजगढ़ और खरगोन में पदस्थ रहे हैं। पुलिस आरक्षक के पद से सेवा में आए पंवार महेश्वर में भी थाना प्रभारी के पद पर रहे। उधर, घायल एसआई रंजना मूलत: खरगोन जिले की रहने वाली हैं और उनकी पहली पोस्टिंग धार में हुई थी। वे साल 2018 में इंदौर आई थीं। पुलिस कंट्रोल रूम में रीगल पर ही एएसआई के पद पर थीं। 2014 में उन्होंने पुलिस में जॉइन की थी। वे सीधी भर्ती के जरिए विभाग में जॉइन हुई थीं।

मजबूत खुफिया तंत्र रखते थे पंवार

पंवार लंबे समय तक भोपाल के महिला थाने में रहने के बाद प्रमोशन लेकर विभिन्न थानों में रहे। वे बेहद मिलनसार और मजबूत मुखबिर तंत्र से हमेशा ही वरिष्ठ अधिकारियों की पसंद भी रहे। अपने अच्छे व्यवहार और कार्यकुशलता के लिए वे जनता के बीच काफी लोकप्रिय थे। कई बार थाने से ट्रांसफर होने पर जनता ने उन्हें फूलों की वर्षा की तो कई बार बग्घी में विदाई दी।

पिता जैसे थे पंवार, कार को लेकर विवाद : ASI

घायल एएसआई रंजना खांडे ने अपने बयान में कहा कि टीआई पंवार पिता समान थे। घटना से पहले हम दोनों में एक कार खरीदी को लेकर बातचीत चल रही थी। यह बहस में बदली और अचानक उन्होंने गोली चला दी। सूत्रों के अनुसार एएसआई ने पूर्व में धार और बैतूल में दो लोगों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला भी दर्ज कराया है। इसके बाद मामला ब्लैकमेलिंग से भी जोड़ा जा रहा था।

सभी पहलुओं पर जांच

प्राथमिक जांच में मामला प्रेम प्रसंग का प्रतीत हो रहा है। घायल महिला से पुलिस अधिकारी के बातचीत करने के बाद प्राथमिक कारण स्पष्ट हो सकेंगे। फिलहाल पुलिस ने सभी संबंधितों से पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस सभी पहलुओं पर मामले की जांच कर रही है। - हरिनारायणचारी मिश्र पुलिस कमिश्नर, इंदौर