कूनो के चीतों पर नजर रखने हर माह जाएगी एक्सपर्ट्स की टीम

कूनो के चीतों पर नजर रखने हर माह जाएगी एक्सपर्ट्स की टीम

जबलपुर। प्रदेश के पालपुर-कूनो सेंचुरी में नामीबिया से लाए गए चीतों के व्यवहार पर नजर रखने के लिए जबलपुर से वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट की टीम हर माह वहां जाएगी। नानाजी देशमुख साइंस वेटरनरी यूनिवर्सिटी के स्कूल आॅफ वाइल्ड लाइफ फारेंसिंक एंड हेल्थ सेंटर के विशेषज्ञों की यह टीम विशेष तौर पर चीतों के व्यवहार के साथ उनकी हेल्थ मॉनिटरिंग और क्वारेंटाइन के नियमों को भी जांचेगी कि इन नियमों को फॉलो किया जा रहा है या नहीं। विवि ने अपने यहां से विशेषज्ञों को भेजे जाने के लिए टीम का गठन कर लिया है। संभवत: यह टीम अगले सप्ताह कूनो के लिए रवाना होगी।

व्यवहार, स्वास्थ्य समेत हर बात पर रहेगी नजर

वेटरनरी यूनिवर्सिटी के एसडब्ल्यूएफएच सेंटर की निदेशक डॉ. शोभा जावरे ने बताया कि कुलपति प्रो. डॉ. एसपी तिवारी के निर्देशन में गठित कूनो भेजी जाने वाली टीम में सेंटर के वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट डॉ. सोमेश सिंह व एनाटॉमी एक्सपर्ट डॉ. देवेन्द्र पोद्धाडे व प्रदेश के सीनियर बायोलॉजिस्ट डॉ. केपी सिंह को शामिल किया गया है। डॉ. केपी सिंह विशेष तौर पर चीतों के व्यवहार पर नजर रखेंगे वहीं डॉ. सोमेश व डॉ. देवेंद्र की उनकी हेल्थ को मॉनिटर करेंगे। यह टीम केंद्र से क्वारेंटाइन के लिए बने नियमों के पालन को लेकर एक रिपोर्ट तैयार करेगी। हर माह इस टीम को मॉनिटरिंग के लिए भेजा जाएगा। इसका रोस्टर भी तैयार किया जा रहा है।

पालपुर कूनो में चीतों की हेल्थ मॉनीटरिंग के लिए शासन से पत्र आया था। इस पर हमने अपने वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट वहां भेजने के लिए टीम गठित कर दी है। संभवत: अगले सप्ताह तक यह टीम कूनो के लिए रवाना होगी। - प्रो. डॉ. एसपी तिवारी, कुलपति, वेटरनरी यूनिवर्सिटी