व्यवसायी ने ‘ मदद के कारोबार’ से की सात हजार लोगों की सेवा

व्यवसायी ने ‘ मदद के कारोबार’ से की सात हजार लोगों की सेवा

ग्वालियर। शहर के एक कारोबारी विपिन दुबे बीमारी के कठिन समय में दूर दराज से आए मरीजों के लिए उनके बेटा की तरह ही मदद करते हैं। वे रोज जेएएच के कमलाराजा अस्पताल सहित अन्य अस्पतालों में मरीजों की सेवा करने पहुंचते हैं और जो भी व्यक्ति उसके पास मदद के लिए कॉल करता है या फिर पहुंचता है उसके काम में जुट जाते हैं। फिर चाहे अस्पताल में जमीन पर लेटे मरीज को बेड उपलब्ध कराना हो या खून की व्यवस्था कराने से लेकर मरीजों जांचें कराने जैसी मदद हो। यहां तक की जब किसी को बल्ड को नहीं मिलता है वे स्वयं या अपने दोस्तों से ब्लड डोनेट भी कराते हैं। समाज सेवा का यह कार्य एक दिन नहीं, बल्कि 365 दिन सुबह 11 से लेकर दोपहर 3 बजे तक चलता है। विपिन अब तक 7 हजार से अधिक लोगों की मदद कर चुके हैं। सीटी स्कैन जैसी महंगी जांच के लिए संकल्प स्माइल इंडिया फाउंडेशन के माध्यम से पैसा एकत्रित कर लोगों की मदद करते हैं। इसके लिए वह अपने साथियों से भी मदद लेते हैं।

आयुष्मान का लाभ प्राइवेट में दिलाते हैं

विपिन बताते हैं कि जिन मरीजों के पास आयुष्मान भारत योजना का कार्ड होता है उनको अगर प्राइवेट अस्पताल में उपचार कराना होता है तो वे अस्पताल प्रबंधन से बात कर उन्हें वहां पर भर्ती करवाते हैं।

सर्दी से बचाने खोला कंबल बैंक

इन दिनों शहर में हाड़ कपाने वाली सर्दी पड़ रही है अस्पतालों में उपचार के आने वाले मरीजों की समस्या को देखते हुए इस कारोबारी द्वारा कमलाराजा अस्पताल में अटेंडरों की मदद के लिए एक कंबल बैंक भी रूम नंबर 6 शुरू कर दिया है। इसमें एक बॉक्स में 125 कंबल रख दिए गए हैं इन्हें अटेंडर अपनी जरूरत के हिसाब से यहां से ले जाते हैं और अगले दिन वहीं पर रखकर चले जाते हैं यह सेवा भी नि:शुल्क चल रही है।