कोरोना वायरस की वैक्सीन का इंसानों पर ट्रायल सफल

कोरोना वायरस की वैक्सीन का इंसानों पर ट्रायल सफल

बीजिंग। चीन ने एक और कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने का दावा किया है। चाइना नेशनल बायोटेक ग्रुप (सीएनबीजी) ने रविवार को जानकारी दी है कि इंसानों पर किए गए टेस्ट के शुरुआती रिजल्ट आ गए हैं। कंपनी ने कहा है कि क्लिनिकल ट्रायल के दौरान ये वैक्सीन सुरक्षित और असरदार दिखी। सीएनबीजी ने चीनी सोशल मीडिया वीचैट पर जानकारी दी है कि क्लिनिकल ट्रायल के फेज 1/2 में 1120 स्वस्थ लोगों को ये वैक्सीन दी गई थी। जिन लोगों को वैक्सीन दी गई, उन सभी लोगों में उच्च मात्रा में एंटीबॉडीज पैदा हुई।

वैक्सीन बनाने की दौड़ में आगे निकला चीन

रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी कंपनियों और रिसर्चर्स को अब तक आठ कोरोना वैक्सीन कैंडिडेट के इंसानी ट्रायल की मंजूरी मिल चुकी है। इस हिसाब से यह भी कहा जा रहा है कि सफल वैक्सीन तैयार करने की दिशा में चीन काफी आगे पहुंच गया है। चाइना नेशनल बायोटेक ग्रुप चीन की सरकारी कंपनी चाइना नेशनल फार्मस्यूटिकल ग्रुप (सिनोफार्म) से मान्यता प्राप्त है। कुछ दिन पहले जून में ही सीएनबीजी ने एक और कोरोना वैक्सीन तैयार करने की जानकारी दी थी। वह वैक्सीन वुहान स्थित यूनिट में तैयार की गई थी।

अब यूएई में होगा तीसरे चरण का परीक्षण

किसी भी वैक्सीन के पहले और दूसरे चरण में अच्छे रिजल्ट आने के बाद तीसरे चरण में बेहतर प्रदर्शन करना जरूरी हो जाता है। तीसरे चरण में हजारों लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जाती है। तीसरा चरण सफल होने के बाद ही आमलोगों को वैक्सीन मुहैया कराई जाती है। सीएनबीजी ने मंगलवार को कहा था कि वह अपनी वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में करेगी। लेकिन कंपनी ने ये साफ नहीं किया है कि कौन सी वैक्सीन यूएई में टेस्ट की जाएगी।