संसद में जो हुआ उसकी समीक्षा जरूरी

संसद में जो हुआ उसकी समीक्षा जरूरी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की संसद में अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने और नेशनल असेंबली भंग किए जाने पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की। घटनाक्रम को लेकर विपक्षी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने एक याचिका दायर की थी। कोर्ट ने कहा- संसद में जो कुछ भी हुआ उसकी समीक्षा जरूरी है। हमने सभी पक्षों को नोटिस जारी किए हैं। अगली सुनवाई मंगलवार को होगी। दूसरी तरफ, राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने कहा कि केयरटेकर प्रधानमंत्री की नियुक्ति तक इमरान पद पर बने रहें। उधर, इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान इंसाफ ने केयरटेकर पीएम के लिए पूर्व जज अजमत सईद का नाम सुझाया है। सईद उस बेंच का हिस्सा थे, जिसने पनामा पेपर लीक मामले में पूर्व पीएम नवाज शरीफ को दोषी करार दिया था।

महिला विधायकों ने एक-दूसरे के बाल खींचे

पाकिस्तान के पंजाब की असेंबली में महिला विधायकों के बीच हाथापाई हुई। सरकार और विपक्ष की विधायक आपस में गुत्थमगुत्था हो गईं। चीखती-चिल्लाती हुई महिला विधायकों ने एक-दूसरे के साथ धक्का-मुक्की की और बाल भी खींचे। इस दौरान पुरुष विधायकों ने बीच में आकर महिलाओं को लड़ने से रोका। खास बात यह है कि महिला विधायकों के बीच यह विवाद पंजाब का नया मुख्यमंत्री चुनने को लेकर हुआ।