दीवार पर लिखा, मां के दिए रु. खर्च कर दिए भाई माफ कर दो

दीवार पर लिखा, मां के दिए रु. खर्च कर दिए भाई माफ कर दो

जबलपुर। गोराबाजार थाना क्षेत्र के कजरवारा में एक युवक ने दीवार पर सुसाइड नोट लिखकर फांसी लगा ली। लेकिन हैरत की बात यह है कि युवक ने महज 885 रुपए खर्च करने पर यह कदम उठाया। यह बात उसने दीवार पर लिखी है, इसके अलावा उसने पहले घर में रखी देवी की मूर्ति पर खून भी चढ़ाया। पुलिस ने मर्ग कायम कर प्रकरण को जांच में लिया है। पुलिस ने बताया कि कजरवारा पुरानी बस्ती निवासी रमेश कुमार अहिरवार अपने परिजन के साथ घर में रहता है। शुक्रवार शाम वह काम से घर पहुंचा, तो देखा कि घर का दरवाजा अंदर से बंद था। जब उसने दरवाजा खोलने के लिए आवाज दी, तो दरवाजा नहीं खुला, इसके बाद उसने पड़ोसियों और डायल 100 को सूचना दी।

दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंचे

सभी ने आवाज देकर रमेश के बेटे आकाश अहिरवार को दरवाजा खोलने के लिए कहा। लेकिन उसने जब दरवाजा नहीं खोला, तो सभी ने मिलकर दरवाजा तोड़ दिया। जब सभी अंदर पहुंचे, तो देखा कि आकाश फंदे पर लटका हुआ था। जिसके पैर के नीचे दो स्टील की टंकी रखी थी, जिसमें से उसने एक के उपर एक टंकी रखी थी और फिर फंदे से फांसी लगाई। जिसके बाद अपने पैर से टंकी को गिरा दिया।

मां के 885 रुपए खर्च कर दिए

जब पुलिस किचन में पहुंची, तो देखा कि दीवार में काले रंग से लिखा है कि भाई मुझे माफ करना मैंने मां के 885 रुपए खर्च कर दिए। इसके अलावा पास ही लगी देवी की मूर्ति में खून लगा मिला है। जिसे पुलिस ने सुरक्षित कर जांच शुरू कर दी है। इस बात को लेकर आकाश ने यह कदम उठाया, इस बात से सभी हैरत में है।