थर्मल स्क्रीनिंग-सेनेटाइजेशन के बाद दिया एग्जाम, बाद में भूले सोशल डिस्टेंस

 10 Jun 2020 01:36 AM  2

भोपाल । मप्र बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (एमपी बीएसई) के 12वीं के शेष पेपरों के एग्जाम मंगलवार से शुरू हुए। दो शिμट में एग्जाम में पहले ही दिन राजधानी के एग्जाम सेंटरों में स्टूडेंट पेपर देने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग को तोड़ते दिखे। प्रशासन ने सेंटर के अंदर तो कई इंतजाम किए थे, पर बाहर टीचर तैनात नहीं होने से पेपर छूटने के बाद स्टूडेंट ग्रुप डिस्कशन करते नजर आए। सेंटर पर जाने के पहले स्टूडेंट्स को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने सर्कल बनाए और थर्मल स्क्रीनिंग व सैनेटाइजेशन कर एंट्री दी गई। सभी स्टूडेंट्स और स्टॉफ मास्क लगाए दिखे। ज्ञात हो कि पहले दिन राजधानी में कोई प्रकरण नहीं बना। 12वीं के साढ़े आठ लाख स्टूडेंट्स के एग्जाम शुरू हुए। राजधानी के 97 सेंटरों में 11 हजार स्टूडेंट्स के एग्जाम की व्यवस्था थी। इसमें 8 हजार स्टूडेंट्स ही शामिल हुए। अबसेंट में कई गृह जिले में एग्जाम दे रहे हैं, तो कुछ बीमारी व अन्य कारणों से अबसेंट रहे हैं। दो  शिफ्टों  में एग्जाम में पहली शिμट में केमिस्ट्री का पेपर सुबह 9 बजे से रहा। इसमें 9261 के स्थान पर 6748 स्टूडेंट प्रजेंट हुए। वहीं दोपहर 2 बजे से दूसरी शिफ्ट में भूगोल का पेपर हुआ। इसमें 1,757 में से 1380 स्टूडेंट्स परीक्षा देने पहुंचे।

डस्टेंसिंग का पालन करवाएं

बेटे को केमेस्ट्री का पेपर दिलाने गया था। स्टूडेंट्स ग्रुप में डिस्कशन करते दिखे। यहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाए। राजेश सैनी, पैरेंट्स्

 सेंटर पर ठीक रहीं व्यवस्थाएं

मेरा केमेस्ट्री पेपर था, अच्छा गया है। थर्मल स्क्रीनिंग और सैनेटाइजर की व्यवस्था की गई थी। एक डेस्क छोड़कर बैठाया गया। अमन वर्मा, स्टूडेंट