भोपाल पहुंचे कोरोना के 94 हजार डोज, इसके बाद संभाग के 8 जिलों में पहुंचाया

 14 Jan 2021 01:51 AM

भोपाल। राजधानी वासियों समेत प्रदेश के लोगों का वैक्सीन का इंतजार खत्म हो गया। राजा भोज एयरपोर्ट पर पहुंची वैक्सीन की खेप पुलिस सुरक्षा में स्वास्थ्य विभाग की इंसुलेटेड वैन में किलोल पार्क स्थिति क्षेत्रीय स्वास्थ्य संचालक कार्यालय में बनाए गए संभागीय कोल्ड स्टोरेज सेंटर पहुंचाई गई। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि 94 हजार वैक्सीन के डोज भोपाल और होशंगाबाद संभाग के 8 जिलों के हेल्थ वर्करों को लगाने के लिए आए हैं। इनमें हरदा, होशंगाबाद, बैतूल, सीहोर, विदिशा, राजगढ़, रायसेन और भोपाल शामिल हैं। सेंटर से वैक्सीन के तय डोज दूर के जिलों को पहले भेजी गई। अधिकतम 6 घंटे के भीतर सभी जिलों में वैक्सीन पहुंच गई। इसी तरह अन्य जिलों इंदौर, जबलपुर में भी देर शाम को कोरोना वैक्सीन एयर कार्गो μलाइट से पहुंची। 16 जनवरी से प्रदेश ही नहीं बल्कि देश भर में कोरोना वैक्सीन लगाने का महाटीका अभियान शुरू होगा।

भोपाल संभाग के सभी हेल्थ वर्करों को लगेगी कोविशील्ड वैक्सीन

भोपाल संभाग को ''कोविशील्ड" वैक्सीन मिली है, जो भी सभी हेल्थ वर्करों को लगेगी। इसे 2 से 8 डिग्री तापमान के बीच स्टोर करके रखा जा रहा है। कोल्ड बॉक्स में इतने ही तापमान में वैक्सीन दूसरे जिलों में भेजी गई।

एक बॉयल से 10 लोगों को लगेगा टीका

कोविशील्ड वैक्सीन के एक बॉयल (इंजेक्शन की बॉटल) में 10 डोज हैं। इससे 10 लोगों को टीका लगेगा।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने किया टीके को पड़ोसी जिलों में रवाना

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने दूसरे जिलों जैसे सीहोर, हरदा और बैतूल भेजी जा रही वैक्सीन को रवाना कराया।

कोल्ड बॉक्स रखते समय कर्मचारी गिरा, तबीयत बिगड़ी

बैतूल के लिए भेजी जा रही वैक्सीन जब इंसुलेटेड वैन में रखी जा रही थी तभी स्वास्थ्य विभाग के एक कर्मचारी अचानक गिर पड़ा। उसके हार्ट में दर्द हो रहा था। उसे तत्काल एक तरफ कर इलाज दिया गया। कर्मचारी को स्वस्थ होने के बाद ही वैन के साथ रवाना किया गया।

टीकाकरण के लिए कौन से दस्तावेज जरूरी

आधार कार्ड, पेंशन कार्ड, बैंक पासबुक, ड्राइविंग लाइसेंस, स्वास्थ्य बीमा कार्ड, मनरेगा कार्ड, पैन कार्ड , पासपोर्ट, नौकरी का आईडी कार्ड राज्य सरकार, भारत सरकार, पीएसयू या पब्लिक लिमिटेड कंपनी द्वारा तैयार किया गया कार्ड और वोटर आईडी कार्ड टीकाकरण के लिए जरूरी होगा।

ऐसे लगेगी वैक्सीन

􀂄 को-विन ऐप पर रजिस्टर्ड हेल्थ वर्कर को टीका लगवाने के लिए 24 घंटे पहले एसएमएस भेजा जाएगा।

􀂄 एसएमएस में वैक्सीन लगवाने वाले सेंटर, समय आदि की जानकारी होगी। एसएमएस मिलने पर ही हेल्थवर्कर को टीका लगवाने जाना होगा।

􀂄 वैक्सीनेशन सेंटर पर टीका लगाने का समय सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक होगा। एक दिन में एक सेशन होगा।

􀂄 वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचे हेल्थ वर्कर को एसएमएस दिखाने पर ही टीकाकरण के लिए पात्र माना जाएगा।

􀂄 वहां पर शरीर का तामपान और ऑक्सीजन रेट चैक किया जाएगा।

􀂄 काउंसलिंग के दौरान बीते 7 दिन की हिस्ट्री ली जाएगी। उसे पूछा जाएगा कि किसी चीज से एलर्जी तो नहीं है।

􀂄 आधार कार्ड या अन्य दस्तावेजों से हेल्थ वर्कर की जांच होगी। इसके बाद वैक्सीन लगाई जाएगी।

􀂄 वैक्सीन लगने के बाद 30 मिनट तक हेल्थ वर्कर को आर्ब्जवेशन में रखा जाएगा।