मशहूर हिंदी गजलकार जहीर कुरेशी का निधन

 20 Apr 2021 08:09 PM

भोपाल। देश के मशहूर हिंदी गजलकार जहीर कुरेशी का मंगलवार को बुरहानपुर में निधन हो गया। उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। वे इन दिनों अपने पैतृक शहर चंदेरी में रह रहे थे। वे वहीं संक्रमित हुए थे। बुरहानपुर में उनके दामाद डॉक्टर हैं। लगातार आॅक्सीजन लेवल कम होने के कारण दो दिन पहले उन्हें बुरहानपुर ले जाया गया था। जहां उनका निधन हो गया।  5 अगस्त 1950 में चंदेरी गुना में जन्मे जहीर कुरेशी की पाँच दशक लंबी हिन्दी गजल यात्रा रही है। इस दौरान उनके दस गजल-संग्रह ही मंजरे-आम पर हैं। अलग-अलग प्रांतों के चार विश्वविद्यालयों में उनके गजल-रचना अवदान पर, अब तक चार शोध-छात्रों को पीएच.डी. अवार्ड हो चुकी है। जहीर कुरेशी देश के पहले हिन्दी गजलकार हैं, जिनकी कुल 25 गजलें 5 वर्ष तक देश के दो अलग-अलग विश्वविद्यालयों के एमए (हिन्दी) पाठ्यक्रम में निर्धारित रहीं।