बाल विवाह से बचने सागर से भोपाल पहुंची लड़की, बोली- अभी पढ़ना चाहती हूं, दादी ने शादी तय कर दी

 03 May 2021 09:16 PM

पीपुल्स संवाददाता, भोपाल। खुद को बाल विवाह की कुरीति से बचाने के लिए 17 वर्षीय किशोरी सागर जिले में अपने घर से निकल कर भोपाल आ पहुंची। भोपाल में किसी नागरिक ने किशोरी को संदिग्ध अवस्था में कटारा हिल्स थाना क्षेत्र में घूमते हुए देखा तो डायल 100 को कॉल किया। पुलिस के मुताबिक तुरंत सिटी चाइल्ड लाइन को इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद अब किशोरी बाल कल्याण समिति भोपाल के संरक्षण में है। समिति से पूछने पर उन्होंने बताया कि देर रात किशोरी के संबंध में जानकारी उन्हें मिली थी। समिति सदस्य डॉ. कृपाशंकर चौबे ने कहा कि किशोरी का कोविड सहित अन्य मेडिकल चेकअप कराने के बाद उसे आश्रय दिया गया है। उन्होंने कहा कि किशोरी सागर जिले की है तो उसे एक या दो दिन में सागर बाल कल्याण समिति को सुपुर्द कर दिया जाएगा। आगे की कार्यवाही वहीं से होगी। 

माता-पिता नहीं हैं
किशोरी ने बताया कि उसके माता-पिता नहीं है। वह अपनी दादी के साथ रहती है। बूढ़ी दादी का मानना है कि अब वह किशोरी की जिम्मेदारी उठाने में असमर्थ है। यही वजह है कि कोरोना संक्रमण की स्थितियों का लाभ उठाते हुए उन्होंने किशोरी की शादी उससे उम्र में काफी बड़े व्यक्ति के साथ तय कर दी। किशोरी ने कहा कि वह शादी नहीं करना चाहती बल्कि अभी आगे पढ़ना चाहती है। उसे कोई और रास्ता समझ नहीं आया तो वह घर से निकल गई। उसे समझ नहीं आ रहा था कि कहां जाए, उसे भोपाल ही सबसे सही जगह लगी इसलिए वह भोपाल आ गई।