आयरलैंड से 50 लाख की नौकरी छोड़ मप्र लौटे राजपाल का पीएम मोदी की यूथ ब्रिगेड में चयन

 22 Nov 2020 01:50 AM

भोपाल। आयरलैंड की सॉटवेयर कंपनी से 50 लाख रुपए की नौकरी छोड़ मप्र लौटे युवक का देश के 5 ऐसे युवाओं में चयन हुआ है जो मोदी सरकार की यूथ पॉलिसी के लिए सुझाव देंगे। डबलिन में ओवरसीज फ्रेंड्स आफ बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ में सक्रिय रहे राजपाल सिंह राठौर (32) को नवगठित नेशनल यूथ एडवायजरी काउंसिल में चुना गया है। देश में यूथ लीडरशिप विकसित करने और युवाओं की ऊर्जा के बेहतर उपयोग पर काउंसिल की सलाह पर केंद्र सरकार अपना एक्शन प्लान बनाएगी। मोदी सरकार ने जिन 5 युवाओं को चुना है उनमें राजपाल के अलावा डॉ अंकित देसाई गुजरात, निहारेंद्र शर्मा असम, आर शिवाबालन तमिलनाडू और मोनिकाल कालहेर उत्तरप्रदेश शामिल हैं।

एक्शन प्लान बनाएगी काउंसिल, 26 को बैठक

केंद्रीय खेल एवं युवा कल्याण मंत्री किरण रिजिजू की अध्यक्षता में गठित नेशनल यूथ एडवायजरी काउंसिल के हर सदस्य को 6 राज्यों का प्रभार दिया जाएगा। नेशनल यंग लीडर्स प्रोग्राम के तहत यह ‘यूथ ब्रिगेड’ देश की युवा नीति सहित अन्य कई मुद्दों पर सरकार के साथ मंथन करेगी। काउंसिल में आधा दर्जन केंद्रीय मंत्रालयों के सचिव, चुनिंदा एनजीओ सहित मप्र सहित 7 राज्यों के युवा एवं खेल विभाग के प्रमुख सचिवों को भी समन्वय की जवाबदारी सौंपी गई है। 26 नवंबर को काउंसिल की पहली बैठक वर्चुअल प्लेटफार्म पर बुलाई गई है, जिसमें केंद्रीय मंत्री रिजिजू शामिल रहेंगे।