दुखद : कोरोना ने ले ली एक और आरक्षक की जान, मकान बेचकर पिता ने लगा दिए चालीस लाख, सहकर्मियों ने भी की थी आर्थिक मदद

 04 May 2021 02:40 PM

भोपाल। कोरोना वायरस ने राजधानी भोपाल के एक और पुलिसकर्मी की जान ले ली। बिलखिरिया में पदस्थ आरक्षक सुरेश का कोरोना संक्रमण के कारण दुखद निधन हो गया। आरक्षक सुरेश विश्वकर्मा 14 मार्च से कोरोना वायरल से संक्रमित थे। 24 मार्च को उनकी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव भी आ गई थी, लेकिन फेफड़े में संक्रमण अधिक होने के कारण उनकी जान नहीं बच सकी। 

सुरेश के पिता हेड कांस्टेबल जगदीश विश्वकर्मा एमपी नगर थाने में पदस्थ है। उन्होंने बेटे की जान बचाने के लिए अपना मकान तक बेच दिया, लेकिन वे बेटे को बचा नहीं सके। सोमवार रात करीब 12 बजे बंसल अस्पताल के डॉक्टर ने सुरेश की मृत्यु की पुिष्ट की। 

गौरतलब है कि सुरेश के इलाज के लिए स्टाफ के लोगों ने एक लाख रुपए जमा किए थे। सुरेश के निधन की जानकारी मिलते ही डीआईजी इरशाद वली, आरआई दीपक पाटील समेत चूनाभट्टी पुलिस का स्टाफ मंगलवार सुबह बंसल अस्पताल पहुंचा और सुरेश को अंतिम विदाई दी। सुरेश का शव परिजन अपने पैतृक गांव पचोर राजगढ़ लेकर गए है। कोविड गाइडलाइन के अनुसार गांव में परिजन सुरेश का अंितम संस्कार होगा।