कोरोना संक्रमित पिता का इलाज कराने इटावा से भोपाल आ रहे बेटे की कार पुलिया से टकराकर पलटी, मौत.

 02 May 2021 09:06 PM

भोपाल। कोरोना संक्रमित पिता का इलाज कराने के लिए उत्तर प्रदेश के औरैया से भोपाल आ रहे बेटे की कार पुलिया से टकराकर पलट गई। गड्डे में गिरने के कारण बेटे और ड्रायवर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। आगे चल रही कार में सवार पिता और भाई को हादसे का पता नहीं चला और वह अस्पताल पहुंच गए। राहगीरों से मिली सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कार में फंसे दोनों लोगों को बाहर निकाला, लेकिन उनकी मौत हो चुकी थी। हादसा रायसेन रोड स्थित अशोका आईटीआई के पास शनिवार तड़के हुआ। पुलिस ने मर्ग कायम कर शवों का पीएम कराने के बाद लाश परिजन को सौंप दी, जिसे लेकर वह औरैया लौट गए। बिलखिरिया थाने में पदस्थ एएसआई मुन्नालाल दुबे के मुताबिक राम गुप्ता पुत्र मुकेश गुप्ता (28) मूलत: उप्र के औरैया जिले के तहसील बिधूना के रहने वाले थे। उनके पिता मुकेश कोरोना संक्रमित हो गए थे। शुक्रवार रात को राम अपने छोटे भाई लक्ष्मण गुप्ता और ड्रायवर दीपक कुमार (26) के साथ पिता का इलाज कराने भोपाल लेकर आ रहे थे। उनके पिता को चूनाभट्टी स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराना था। पांच लोग दो अलग-अलग कारों में सवार थे। एक कार में लक्ष्मण, ड्राइवर और उनके पिता तथा दूसरी कार में राम और ड्रायवर दीपक थे। तड़के करीब तीन-चार बजे के बीच दोनों कारें रायसेन जिले के खरबई पुलिस चौकी के पास स्थित पेट्रोल पंप पर रुकीं और उसके बाद भोपाल के लिए रवाना हो गईं। आईटीआई के सामने दुर्घटनाग्रस्त हो गई पीछे वाली कार : पेट्रोल पंप से निकलते समय दोनों कारें आगे-पीछे चल रही थीं, लेकिन कुछ देर बाद ही लक्ष्मण की कार आगे निकल गई, जबकि राम की गाड़ी काफी पीछे थी। सुबह करीब पांच बजे रायसेन रोड स्थित अशोका आईटीआई के सामने पीछे चल रही राम गुप्ता की कार पुलिया से टकराकर पलट गई और सड़क किनारे गड्डे में जा गिरी। लक्ष्मण को हादसे का पता नहीं चला, इसलिए वह पिता को लेकर अस्पताल पहुंच गए और भर्ती करवा दिया। डायल 100 पर पुलिस को मिली हादसे की सूचना : एएसआई दुबे ने बताया कि हादसे के बाद एक स्थानीय व्यक्ति ने डायल 100 पर सूचना दी, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। कार में फंसे दोनों युवकों को बाहर निकाला गया, लेकिन उनकी मौत हो चुकी थी। उनके पास मिले मोबाइल के आधार पर पुलिस ने परिजनों से संपर्क किया, जिसके बाद लक्ष्मण मौके पर पहुंचे। पुलिस का अनुमान है कि लगातार ड्राइव करने के कारण ड्रायवर को अचानक झपकी आई होगी, जिसके कारण यह हादसा हुआ होगा। हालांकि जांच के बाद ही हादसे के सही कारणों का पता चल पाएगा।