मध्य प्रदेश में 18 से 44 साल की उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन 5 मई से शुरू होगा, शिवराज ने ऐलान किया

 03 May 2021 06:36 PM

भोपाल। मध्य प्रदेश में 18 से 44 साल के लोगों का अब 5 मई से वैक्सीनेशन शुरू होगा। इसके लिए प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की 5 करोड़ 19 लाख डोज की ज़रूरत होगी। इस संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया है।

केंद्र सरकार ने पूरे देश में ये कार्यक्रम 1 मई से शुरू किया है, लेकिन मध्य प्रदेश समेत कुछ प्रदेशों में वैक्सीन की कमी के कारण ये कार्यक्रम 1 मई से शुरू नहीं हो पाया था। सोमवार को सीएम शिवराज ने इस संबंध में बैठक की। इसमें वैक्सिनेशन की तारीख तय कर दी गई।

 

मध्य प्रदेश को 5 करोड़ 19 लाख डोज की जरूरत
पूरे प्रदेश में इस कैटेगरी के मरीजों के लिए वैक्सीन की 5 करोड़ 19 लाख डोज की जरूरत होगी। वैक्सीनेशन की तैयारियों को लेकर सीएम ने बैठक बुलाई थी। सरकार ने भारत में वैक्सीन बनाने वाली दोनों कंपनियों कोविशील्ड और कोवैक्सीन के लिए भारत बायोटैक और सीरम इंस्टीट्यूट को ऑर्डर दे दिया है। वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर कार्यक्रम चलता रहेगा।

1480 सत्रों में 1 लाख 48 हज़ार डोज
कोविशील्ड की 4 करोड़ 76 लाख वैक्सीन और कोवैक्सीन की 52 लाख 25 हज़ार डोज आएंगी। 5 मई से 15 मई तक कुल 1480 सत्रों में 1 लाख 48 हज़ार डोज लगाने का प्रोग्राम तय किया गया है। 5 और 6 मई को 104 सत्रों में 10,400 डोज, 8 और 10 मई को 416 सत्रों में 41,600 डोज, 12, 13 और 15 मई को 960 सत्रों में 96,000 डोज लगाए जाएंगे।

प्रदेश के पत्रकारों का वैक्सीनेशन
मध्य प्रदेश के पत्रकारों को जिले वार विशेष सत्र में वैक्सीन लगाया जाएगा। यह वैक्सीन निशुल्क रहेगा। अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारों को ये सुविधा दी जा रही है। कांग्रेस ने प्रदेश के सभी पत्रकारों को वैक्सीन लगवाने की मांग की है।