नया वित्त वर्ष: आज से महंगे हो जाएंगे इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद, दूध, हवाई सफर, कार-बाइक; जानें नई कीमतें

 01 Apr 2021 10:12 AM

नई दिल्ली। नया वित्त वर्ष आज से शुरू हो चुका है। यह साल उपभोक्ताओं के लिए वित्त का बोझ लेकर आया है। आज से कई प्रोडक्ट और सर्विस के दाम बढ़ जाएंगे। इनमें इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद, दूध, कार-बाइक, हवाई सफर, स्मार्ट फोन, टर्म प्लान आदि शामिल हैं। 

हवाई सफर
घरेलू उड़ानों में पांच प्रतिशत किराया बढ़ाने के बाद अब सरकार आज यानी 1 अप्रैल से हवाई यात्रियों को एक और झटका देने जा रही है। अप्रैल 2021 से विमान यात्रियों से अधिक विमानन सुरक्षा शुल्क वसूला जाएगा। एक अप्रैल से घरेलू यात्रियों के लिए विमानन सुरक्षा शुल्क 200 रुपये होगा। अभी यह 160 रुपये है। अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की बात करें, तो इनके लिए शुल्क 5.2 डॉलर से बढ़कर 12 डॉलर हो जाएगा। 

विमानन कंपनियां टिकट की बुकिंग के वक्त एएसएफ वसूल कर सरकार को जमा कराती हैं। इस राशि का इस्तेमाल पूरे देश के हवाईअड्डों की सुरक्षा व्यवस्था पर किया जाता है। हालांकि कुछ यात्रियों को भुगतान से छूट दी गई है। इनमें दो साल से कम उम्र के बच्चे, डिप्लोमैटिक पासपोर्ट धारक, आॅन ड्यूटी एयरलाइन क्रू और एक ही टिकट के जरिए पहली फ्लाइट के 24 घंटों के अंदर दूसरी कनेक्टिंग फ्लाइट लेने वाले ट्रांजिट यात्री शामिल हैं।

एलईडी टीवी
ओपन सेल की कीमतें एक महीने में 35 प्रतिशत तक बढ़ चुकी है। इसकी भरपाई के लिए कंपनियां प्रति इकाई कम-से-कम 2,000 से 3,000 रुपये तक कीमतें बढ़ा सकती हैं।

इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद
एसी, फ्रिज, कूलर, पैनासोनिक और थॉमसन जैसे ब्रांड ने एसी, फ्रिज और कूलर की कीमतें बढ़ाने की घोषणा की है। इसके बाद एसी के लिए प्रति इकाई 1,500 से 2,000 रुपये ज्यादा चुकाने होंगे।

स्मार्टफोन
हाल ही में संसद में पेश हुए बजट में मोबाइल पार्ट्स, चार्जर और एडॉप्पर, बैटरी, हेडफोन पर आयात शुल्क 2.5 फीसदी बढ़ाने की बात कही गई थी। 

कार
कच्चे माल की लगातार बढ़ती कीमतों के चलते मारुति, निसान सहित कई कंपनियों ने आज से कीमतें बढ़ाने की घोषणा की है। कीमतें कितनी बढ़ेंगी, यह तय नहीं है। 

दोपहिया वाहन
हीरो मोटोकॉर्प दोपहिया वाहनों की कीमतें 2500 रुपये तक बढ़ा सकती है। बाइक व स्कूटर के किस मॉडल पर कितनी कीमतें बढ़ेंगी, यह मार्केट के हिसाब से तय होगा। कंपनियां ग्राहकों की सुविधा के लिए लागत बचत कार्यक्रम को आगे बढ़ा रही हैं।?

दूध
किसानों ने दूध के दाम 3 रुपये बढ़ाकर 49 रुपये प्रति लीटर करने की बात कही थी। ऐसे में घी, पनीर और दही समेत दूध से बने सभी उत्पादों की कीमतें बढ़ सकती हैं।

टर्म प्लान
1 अप्रैल से टर्म प्लान के लिए ज्यादा प्रीमियम चुकाना होगा। कोरोना के बाद मांग में वृद्धि और ज्यादा जोखिम के कारण बीमा कंपनियां प्रीमियम में 10 से 15% वृद्धि कर सकती हैं।