SBI ग्राहक ध्यान दें:  ATM और चेकबुक से पैसा निकालना होगा महंगा, 1 जुलाई से बढ़ेंगे सर्विस चार्ज

 25 May 2021 12:57 PM

नई दिल्ली। SBI ने अपने बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट (BSBD) खाताधारकों के लिए नए सर्विस चार्ज शुरू किए हैं। यह सर्विस चार्ज 1 जुलाई से लागू होंगे। इसके तहत बैंक ने एटीएम से निकासी, चेकबुक, मनी ट्रांसफर और नॉन फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन पर सर्विस चार्ज को बढ़ाने का निर्णय लिया है। बैंक ने अपनी वेबसाइट पर इसकी जानकारी दी है। 

ब्रांच से 4 बार पैसा निकाला तो...
एसबीआई ग्राहक बैंक से एक माह में 4 बार बिना किसी चार्ज के पैसा निकाल सकेंगे। 4 बार से अधिक पैसा निकाला गया तब बैंक ग्राहक से एडिशनल चार्ज वसूलेगा। इस ट्रांजैक्शन में बैंक के एटीएम भी शामिल हैं। अगर आप चार बार से अधिक एसबीआई ब्रांच या एटीएम से पैसा निकालते हैं तो आपको 15 रुपए और जीएसटी जोड़ कर  शुल्क देना होगा। यह चार्ज हर एक अतिरिक्त ट्रांजैक्शन पर लगेगा। 

ATM में भी लिमिट 4 बार 
बीएसबीडी ग्राहक एसबीआई एटीएम और गैर एसबीआई से अगर चार बार से अधिक पैसा निकालता है तो उसे सर्विस चार्ज का भुगतान करना होगा। सर्विस चार्ज के नाम पर बैंक को 15 रुपये और जीएसटी चार्ज देना होगा। 

चेक बुक के लिए भी देना होगा पैसा 
एसबीआई बीएसबीडी खाता धारकों को 10 चेकबुक पर कोई चार्ज नहीं लेता है। लेकिन 10 के बाद 40 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज किया जाता है। वहीं, 25 चेक वाली चेकबुक पर 75 रुपये चार्ज किए जाएंगे। जबकि इमरजेंसी चेकबुक पर 50 रुपये और जीएसटी चार्ज जोड़कर देना होगा। सीनीयर सिटीजन को इससे बाहर रखा गया है। 

BSBD अकाउंट क्या है ? 
इसे जीरो बैलेंस अकाउंट के नाम से जाना जाता है। इस बचत खाते की कई सारी खूबियां हैं। इस खाते में ग्राहक को एसबीआई के बचत खाते के बराबर ही ब्याज मिलता है, लेकिन साथ ही इस खाते में ग्राहकों को ऐसी कई स्पेशल सुविधाएं मिलती हैं, जो सामान्य बचत खाताधारकों को नहीं मिलती। इस खाते में ग्राहक को न्यूनतम बैलेंस रखने से छूट, फ्री एटीएम व डेबिट कार्ड और अधिकतम बैलेंस की सीमा से छूट सहित कई सुविधाएं मिलती हैं।

कौन खुलवा सकता है इस अकाउंट को
BSBD अकाउंट को एसबीआई नेट बैंकिंग या एसबीआई ऑनलाइन सेवाओं के जरिए एसबीआई केवाईसी जरूरतों को पूरा कर खुलवाया जा सकता है। जिस किसी के पास वैध केवाईसी दस्तावेज हैं, वह यह अकाउंट खुलवा सकता है। इस खाते को व्यक्तिगत, संयुक्त, या उत्तराधिकारी आधार पर खाता खुलवाया जा सकता है। भारतीय स्टेट बैंक की वेबसाइट के अनुसार, इस समय बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट पर 2।75 फीसद सालाना की दर से ब्याज दिया जा रहा है।