अमेरिकी शेयरबाजार ने बिगाड़ा दुनिया भर के बाजारों का मूड, बीएसई सेंसेक्स 1939 अंक गिरकर 49,099  पर बंद

 26 Feb 2021 04:45 PM

मुंबई। कमजोर ग्लोबल संकेतों के चलते शेयर बाजार में शुक्रवार को भारी गिरावट दर्ज की गई। बीएसई सेंसेक्स 1,939 अंक नीचे गिरकर 49,099.99 पर बंद हुआ। भारी गिरावट के बीच सेंसेक्स 2148.83 गिरकर दिन में 48,890.48 अंक तक पहुंच गया। शुक्रवार का हाल यह रहा कि इंडेक्स में शामिल सभी 30 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए हैं। बाजार में 2021 की यह सबसे बड़ी गिरावट है। एक दिन में इतनी बड़ी गिरावट 4 मई 2020 को देखने को मिली थी। उस दिन इंडेक्स दो हजार अंकों से ज्यादा फिसला गया। गिरावट का असर यह रहा कि मार्केट कैप के लिहाज से 10 सबसे बड़ी कंपनियों में से 7 का मार्केट कैप करीब एक लाख करोड़ रुपए घटा। दुनियाभर के बाजारों में गिरावट का कारण यूएस में बढ़ती बॉन्ड यील्ड और अमेरिकी और ईरान के बीच बढ़ता तनाव है। 

अमेरिकी बाजारों में भारी बिकवाली के चलते दुनियाभर के शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई। जापान का निक्केई इंडेक्स 1,174 अंक यानी 3.9% नीचे 28,993 पर बंद हुआ है। हॉन्गकॉन्ग का हेंगसेंग इंडेक्स भी 1,076 अंक यानी 3.6% नीचे 28,997 पर बंद हुआ है। इसी तरह चीन के शंघाई कंपोजिट इंडेक्स, कोरिया के कोस्पी और आॅस्ट्रेलिया के आॅल आॅर्डनरीज इंडेक्स में भी 2-2% की गिरावट दर्ज की गई।
शुक्रवार को निवेशकों ने सबसे ज्यादा बैंकिंग और आॅटो सेक्टर के शेयरों में बिकवाली की। एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक और आईसीआईसीआई बैंक सहित अन्य प्रमुख बैंकिंग शेयरों में 5-5% से ज्यादा की गिरावट रही। रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस और भारती एयरटेल के शेयरों में भी 2-2% से ज्यादा नीचे बंद हुए। निफ्टी बैंक इंडेक्स 4.78% नीचे 34,803.60 पर और आॅटो इंडेक्स 3.12% नीचे 10,169.90 पर बंद हुआ है। निफ्टी भी 568 अंक 14,529.15 पर बंद हुआ।  
बीएसई पर 3,101 शेयरों में कारोबार हुआ। 1,059 शेयरों में बढ़त और 1,855 में गिरावट दर्ज की गई। लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप भी 5.43 लाख करोड़ रुपए घटकर 200.75 लाख करोड़ रुपए हो गया है, जो कल 206.18 लाख करोड़ रुपए था।