ऑक्सीजन प्लांट : जिला अस्पताल को इंजीनियर का इंतजार, 200 बेड पर दी जा सकेगी सुविधा

 29 Jul 2021 09:48 PM

ग्वालियर। कोरोना की दूसरी लहर ऑक्सीजन के संकट को देखते हुए शासन ने जिला अस्पताल मुरार में कोरोना की तीसरी लहर के लिए ऑक्सीजन प्लांट लगाने की शुरूआत की थी। लेकिन करीब एक महीने पहले टैंक आ जाने के बाद अभी तक प्लांट काम पूरा नहीं हो पाया है। टैंक फिटिंग हो गई है वार्डों में ऑक्सीजन पाइप बिछाने का काम बाकी है जो शुरू ही नहीं हो पा रहा है।

 

पहले पीआईयू द्वारा काम लेट किया जा रहा था अब कंपनी के इंजीनियर का अस्पताल प्रबंधन को इंतजार है। जिस कंपनी द्वारा यहां ऑक्सीजन प्लांट लगाया जा रहा है उसका इंजीनियर विजिट करके अस्पताल में प्वांइट फाइलन करेंगा। अब देखना यह है कि यह इंजीनियर कब तक आ पाता है। अभी दो दिन पहले ही यहां पर कलेक्टर के निर्देश पर प्रशासनिक अधिकारी निरीक्षण करने पहुंचे थे और उन्होंने निर्देश दिए थे कि ऑक्सीजन प्लांट का काम जल्द से जल्द पूरा किया जाए, लेकिन इसके बाद भी इंजीनियर के इंतजार में काम अटका हुआ है।

 

200 बेड पर होगी सप्लाई

प्लांट के शुरू हो जाने के बाद जिला अस्पताल में 200 बेड पर ऑक्सीजन की सप्लाई होगी और मरीजों के बार-बार सिलेंडर बदलने की झंझट से छुटकारा मिल जाएगा।

 

 

अभी हाल ही में प्रशासनिक अधिकारी निरीक्षण करने आए थे उन्होंने पीडब्लूडी की पीआईयू के अधिकारियों को जल्द काम पूरा करने के निर्देश दिए है 15 अगस्त तक इसका काम पूरा होना है। इसको लेकर कंपनी के इंजीनियर का इंतजार है उसके बाद भी तय होगा कि प्वाइंट कहा-कहा से देना है।

-डॉक्टर डीके शर्मा, सिविल सर्जन