वन अमले की गोली लगने से ग्रामीण की मौत, 9 पर केस दर्ज; चंबल की रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली का पीछा कर रही थी टीम

 13 Jun 2021 10:06 PM

मुरैना। चंबल की रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ने के दौरान फॉरेस्ट टीम ने फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में वनकर्मियों की गोली लगने से ग्रामीण महावीर सिंह तोमर की मौत हो गई। घटना नगरा थाना क्षेत्र के अमोलपुरा गांव में रविवार सुबह की है। घटना के बाद ग्रामीणों ने एनएच-552 पर हंगामा करते हुए 3 घंटे तक चक्काजाम किया। ग्रामीणों ने हाईवे पर ओमनी कार को लाठी-डंडों से क्षतिग्रस्त कर दिया। नगरा पुलिस ने मौके पर वन विभाग के गेम रेंज आफिसर सहित 9 कर्मचारियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। मौके पर पहुंचे विधायक कमलेश जाटव ने मृतक के परिजन को 20 हजार रुपए की आर्थिक मदद प्रदान की। 

जानकारी के मुताबिक रविवार सुबह 7 बजे चंबल के नगरा घाट से रेत लेकर पोरसा की ओर जा रहे ट्रैक्टर-ट्रॉली का पीछा करते हुए वन विभाग के गश्ती दल ने उसे अमोलपुरा में मूंग के खेत में घेर लिया। वन कर्मचारी, ट्रैक्टर ड्राइवर को पकड़कर हिरासत में लेने का प्रयास कर रहे थे, तभी विवाद के दौरान मौके पर अमोलपुरा के लोग जमा हो गए। ग्रामीणों ने ट्रैक्टर ड्राइवर को छुड़ाने की कोशिश की तो घटनास्थल पर वन टीम व ग्रामीणों के बीच विवाद हो गया।

इस दौरान गांव से दौड़कर मूंग के खेत में पहुंची भीड़ ने फॉरेस्ट की टीम के 9 कर्मचारियों को चारों तरफ से घेर लिया। भीड़ से खुद को घिरा देख वन कर्मचारियों ने अपनी रायफलों को कॉक कर लिया। दोनों पक्षों के विवाद के दौरान एक वन कर्मचारी की तरफ से चली गोली से महावीर सिंह पुत्र भीकम सिंह तोमर 42 वर्ष निवासी अमोलपुरा की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। युवक की मौत के बाद भीड़ का शिकंजा कमजोर हुआ तो वन विभाग के कर्मचारी मौके से भाग गए। 

युवक के शरीर में 2 गोली और 3 छर्रे लगे थे  
अमोलपुरा निवासी महावीर सिह तोमर के सीने में बायीं तरफ और बाएं हाथ में गोली तथा 3 छर्रे भी बाईं तरफ लगे। के कारण महावीर का हाथ टूट गया। उसकी हड्डी तक बाहर निकल आई। 

9 वन कर्मचारियों पर 302 का मुकदमा दर्ज 
महावीर सिंह तोमर की हत्या को लेकर नगरा पुलिस ने घटना स्थल पर लिखी एफआईआर में वन विभाग के कर्मचारी प्रमोद सिंह तोमर, मन्नी उर्फ राघवेन्द्र सिंह भदौरिया, मनीष त्यागी, विश्वनाथ चौहान, आशीष उपाध्याय, हेमंत राठौर, जीवेश शर्मा, अवधेश कुशवाह व सत्यप्रकाश के खिलाफ 302, 294, 147, 148, 149 का मुकदमा दर्ज किया है। मृतक महावीर सिंह तोमर के बेटे राहुल सिंह उर्फ अंशु (19) को फरियादी बनाया है।

इनका कहना है
रविवार सुबह 7 बजे वन विभाग के एक कर्मचारी ने मोबाइल फोन पर सूचना दी। बताया गया कि अमोलपुरा में रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ने के दौरान फायरिंग हुई है। कुछ देर बाद ग्रामीणों ने फोन पर फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत होने की सूचना दी। 9 वन कर्मचारियों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज किया गया है।- धर्मेन्द्र मालवीय, थाना प्रभारी, नगरा