दिल्ली एम्स में आज से 2-18 साल के बच्चों पर होगा कोवैक्सीन का ट्रायल, आठ हफ्ते में पूरा करने का लक्ष्य

 07 Jun 2021 09:18 AM

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रफ्तार अब कुछ कम हो रही है। वहीं रोजाना होने वाली मौतों के आंकड़े में उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है। ऐसे में सरकार वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है। अभी यह वैक्सीनेशन 18 साल से अधिक उम्र वालों का किया जा रहा है। इसी बीच दिल्ली के एम्स में आज से बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो रहा है। इसमें 2 से 18 साल के बच्चों को शामिल किया जाएगा। पहले चरण में कुल 17 बच्चों पर ट्रायल होगा। ट्रायल सफल होने पर बच्चों में टीकाकरण की शुरुआत की जाएगी। 

आठ सप्ताह में ट्रायल पूरा करने का लक्ष्य
एम्स प्रशासन ने बताया कि आज सुबह 9 बजे से यह ट्रायल शुरू होगा। आठ सप्ताह में इसको पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। ट्रायल के लिए पहले बच्चों की स्क्रीनिंग होगी, उन्हें पूरी तरीके से स्वस्थ पाए जाने के बाद ही टीका लगाया जाएगा। ट्रायल के कई चरण में होंगे। पहले चरण में 17 बच्चों को शामिल किया जाएगा। बच्चों को भारत बायोटेक और आईसीएमआर की कोवैक्सीन की खुराक दी जाएगी। इससे पहले पटना के एम्स में भी वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। वहां 3 जून को तीन बच्चों को वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई थी। विशेषज्ञों ने कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों के लिए अधिक खतरनाक बताया है। ऐसे में बच्चों का टीका उन्हें संक्रमण से बचाने में काफी मददगार हो सकता है।