16 जनवरी से शुरू होगा वैक्सीनेशन: तीन लाख स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका, पीएम कर सकते हैं कुछ लोगों से संवाद

 14 Jan 2021 03:38 PM

नई दिल्ली। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने देश में कोवैक्सीन और कोविशील्ड के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। पूरे देश में 16 जनवरी से वैक्सीनेशन शुरू होने वाला है। पीएम मोदी टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। सूत्रों के मुताबिक पहले दिन 2,934 जगहों पर लगभग तीन लाख स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा। प्रधानमंत्री इस दौरान वीडियो कांफ्रेंस के जरिए देश के विभिन्न हिस्सों के कुछ स्वास्थ्यकर्मियों के साथ संवाद भी कर सकते हैं।

इस मौके पर पीएम को-विन (कोविड वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क) एप भी लांच कर सकते हैं। को-विन भारत सरकार द्वारा विकसित कोविड-19 टीकाकरण वितरण कार्यक्रम का डिजिटल प्लेटफॉर्म है जिसके जरिए देश भर में टीकाकरण वितरण कार्यक्रम की निगरानी की जाएगी। 

अपनी मर्जी का टीका लगाने का फिलहाल विकल्प नहीं
भारत सरकार ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी है। सरकार ने मंगलवार को संकेत दिए कि टीकाकरण में शामिल लोगों को फिलहाल अपनी मर्जी का टीका लगाने का विकल्प नहीं दिया जाएगा।

तीन करोड़ लोगों को मुफ्त लगेगा टीका
पहले चरण में एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों और पहली पंक्ति में खड़े दो करोड़ कर्मियों को मुफ्त में टीका लगाया जाएगा। इसके बाद 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 50 साल से कम उम्र के लोगों को टीका लगाया जाएगा। इस तरह लगभग 27 करोड़ लोगों को टीका लगाया जाएगा।