RTPCR निगेटिव होने के 28 दिन बाद कर सकते हैं ब्लड डोनेशन

 15 Jun 2021 01:11 AM

कोविड पॉजिटिव पेशेंट अपनी आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव होने के बाद किसी जरूरतमंद को 28 दिन बाद ब्लड डोनेट कर सकता है। इसके अलावा जिस व्यक्ति को कोविड नहीं हुआ है वह भी अपना एंटी-बॉडी टेस्ट कराकर ही रक्तदान करें तो बेहतर होगा। वैक्सीन के दोनों डोज लगवाने के 28 दिन बाद रक्तदान किया जा सकता है। इसके अलावा डायबिटीज, हार्ट पेशेंट, टीबी, एचआईवी, हेपेटाइटिस बी, कोरोना, मलेरिया, थैलेसीमिया जैसे रोग या फिर जिस व्यक्ति की कोई बड़ी सर्जरी हुए है, वह रक्तदान नहीं कर सकते। विश्व रक्तदान दिवस पर जवाहर नेहरू कैंसर हॉस्पिटल के आंकोजेनेटिक्स डॉ. एन. गणेश ने रक्षिता वेलफेयर सोसायटी द्वारा आयोजित गूगल मीट में बताया कि कोरोना के दौरान रक्तदान को लेकर कई तरह की भ्रांतियां फैली हैं। सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक अगर आपने वैक्सीन का डोज लिया है तो 28 दिन के बाद ही ब्लड डोनेशन किया जा सकता है। कोविड-19 महामारी को देखते हुए ब्लड डोनर को ब्लड बैंक को ब्लड डोनेट करते समय वैक्सीन की जानकारी देना बेहद जरूरी है। अगर कोई व्यक्ति कोविड-19 से इन्फेक्टेड है या उसमें किसी तरह के लक्षण दिख रहे हैं तो उसे ब्लड डोनेशन नहीं करना चाहिए।

यह भी रखें ध्यान

कोई भी 18 साल से ऊपर उम्र का व्यक्ति रक्तदान कर सकता है। लेकिन, उनका वजन 50 किलो से कम बिल्कुल नहीं होना चाहिए।

रक्तदान करते समय पहले से इस्तेमाल में लाया गया नीडिल का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

गर्भवती महिलाएं रक्तदान करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।

जिन्हें टैटू बना है वे लोग रक्तदान न करें। इसके अलावा तंबाकू व शराब का सेवन करने वाले भी रक्तदान न करें।

कोविड के ठीक होने के 28 दिन बाद अपना हीमोग्लोबिन टेस्ट सहित डी-डायमर, सीआरपी, लिपिड प्रोफाइल, शुगर टेस्ट, आईएल-6 टेस्ट व एंटी-बॉडी टेस्ट भी कराए तभी रक्तदान करें।