Breaking News

साइकलिंग से लेकर पिलाटे तक सभी के लिए आ रहे एक्टिव वियर

 22 Jul 2021 01:56 AM

कोविड में सेलेब्स ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से अपने वर्कआउट शेड्यूल के हर दिन फोटोज पोस्ट किए, जिसमें सबसे स्टाइलिश बात उनके वर्कआउट आउटफिट्स थे। ये उनके फैंस को अक्ट्रैक्ट कर रहे हैं। फिटनेस के प्रति यूं भी महिलाएं सजग हो रही हैं तो इन एथलीशर अपैरल्स ने वर्कआउट के साथ फैशन का तड़का भी लगा दिया। अब महिलाएं मोटिवेटेड फील कर रही हैं, क्योंकि उनके पास अपनी बॉडी के मुताबिक एक्टिव वियर की भरपूर रेंज हैं।

फैशन इंडस्ट्री में बढ़ता हुआ ट्रेंड

(एथलीशर) फैशन इंडस्ट्री में बढ़ता हुआ ट्रेंड हैं, जिसमें स्पोर्ट्स वियर और रोजमर्रा में इस्तेमाल होने वाले कपड़ों के स्टाइल को मिलाकर एक नया क्लोदिंग रेंज तैयार किया जाता है। रिटेल एनालिस्ट कंपनियों की रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत में स्पोर्ट्स वियर अपैरल का मार्केट 12,000-14,000 करोड़ रुपए का है, जिसमें 12 से 14 फीसदी की ग्रोथ देखी जा रही है। अब ज्यादा से ज्यादा लोग स्पोर्ट्स से जुड़ रहे हैं।

एंकल लेंथ टाइट्स

रेगुलर वर्कआउट के अलावा एंकल लेंथ टाइट्स रनिंग के दौरान भी कंफर्ट देती हैं। मॉश्चइर को सोखकर रखने वाले पॉलीमेड फेब्रिक से बनी टाइट्स में नीटेड साइड पैनल होते हैं, जो कि स्टाइल एड करते हैं। इसमें भी अच्छी परफॉर्मेंस के लिए इलास्टिसिटी होती है।1

वाइब्रेंट कलर ट्रैकसूट

ट्रैकसूट अब पहले की तरह सिंगल कलर नहीं, बल्कि मल्टीकलर और वाइब्रेंट फीलिंग देने वाले हैं। यह रैपिड ड्राय टेक्नोलॉजी में आ रहे हैं जिसमें एंटी- माइक्रोबियल टेक्नोलॉजी होती है, जिससे हाइजीन बनी रहती है।

साइकलिंग एक्टिव वियर

साइकलिंग के दौरान बॉटम मूवमेंट ज्यादा रहता है। इस दौरान स्ट्रेचेबल क्लॉदिंग की जरूरत होती है, ताकि साइकलिंग में किसी तरह का खिंचाव महसूस न हो। इसके लिए मिड वेस्ट साइकलिंग शॉर्ट्स आए हैं, जो कि फुल रियर कवरेज स्ट्रेचेबल कॉटन स्पेनडेक्स फेब्रिक में होते हैं।

मसल्स को सिक्योरिटी देते हैं वर्कआउट वियर

एक्टिव वियर के साथ वर्कआउट करना आसान हो जाता है, क्योंकि बॉडी को फिट, शेप व मसल्स को आराम मिलता है। हाई इंटेंसिटी वर्कआउट के लिए तो यह बहुत ही जरूरी हो जाता है। वर्कआउट के दौरान शारीरिक अस्थिरता के कारण चोट लगने का डर कम होता है, क्योंकि विशेष रूप से डिजाइन किए गए स्पोर्ट्सवियर प्रशिक्षण के दौरान मांसपेशियों को सुरक्षा प्रदान करके प्रदर्शन में और इजाफा कर सकते हैं। यह बॉडी टेंपरेचर को भी मेंटेन रखने में मददगार होते हैं। वर्कआउट ड्रेस से स्किन को भी नुकसान नहीं होता। -प्रीति श्रीवास्तव, फिटनेस एक्सपर्ट