CM से बोली कंगना-धाकड़ को करें टैक्स फ्री, मप्र में कराएं स्क्रीनिंग

 10 Jan 2021 01:26 AM

फिल्म थिएटर 16वीं शताब्दी से इवॉल्व हुआ है। इस समय थिएटर में एक तरह की फिल्में आ रही हैं और ओटीटी पर एक तरह की ही फिल्में और वेब सीरीज बन रही हैं, जो लंबे समय तक चलेंगी। यह कहना है एक्ट्रेस कंगना रनोट का। वह फिल्म धाकड़ की शूटिंग के लिए भोपाल में मौजूद हैं। शनिवार को फिल्म का मुहूर्त शॉट पर्यटन और संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि फिल्म थिएटर का एक अलग मजा है और फैमिली मेंबर्स भी जाना पसंद करते हैं और ऐसे में ओटीटी उतनी जल्दी जगह नहीं बना पाएगा। हालांकि, लॉकडाउन के बाद ओटीटी प्लेटफॉर्म के बढ़ते रुझान लगातार अपग्रेड होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि सिनेमाघरों की बात करूं तो ये थ्री-डी, एक्शन और रियल एक्सीपीरियंस वाली फिल्मों के लिए होगा। लोग पिकनिक मनाने की तरह विजुअल एक्सपीरियंस लेने के लिए सिनेमाघरों में आते रहेंगे। ओटीटी ने नए कलाकारों को एक्सप्लोर होने का मौका दिया है। यह उनके लिए बेहतर है।

सीएम शिवराज को मामा कहकर किया संबोधित

कंगना ने शूटिंग के बाद शाम को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की। उन्होंने सीएम को मामा कहकर संबोधित किया। कहा- हमारीफिल्म को धाकड़ को मप्र में टैक्स फ्री करें। उन्होंने फिल्म की स्क्रीनिंग भी मप्र में कराने की बात कही। मुलाकात के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने महिला और बालिका सशक्तिकरण थीम पर आधारित इस फिल्म के निर्माण के लिए कंगना और उनके साथी कलाकारों को बधाई दी। सीएम ने कहा मप्र में ‘बेटी बचाओ अभियान’ चल रहा है इसके अंतर्गत बालिकाओं की शिक्षा और स्वास्थ्य के साथ उनकी सुरक्षा के लिए काम किया जा रहा है। इस दौरान कंगना ने सीएम के महिला सशक्तिकरण के मिशन की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में महिला सशक्तिकरण प्रयास तारीफ के योग्य है। उन्होंने पचमढ़ी में जहां शूटिंग होगी उसे धाकड़ पॉइंट घोषित करने की मांग की।

राजनीति से पहले ऊंचाइयों को छूना है

राजनीति में एंट्री पर कंगना ने मंत्री ऊषा ठाकुर की तरफ इशारा करते हुए कहा कि इस फील्ड में आगे आने के लिए संघर्ष किया है। इसलिए ये यहां तक पहुंची हैं। मैंने भी अपनी फील्ड में यहां तक पहुंचने के लिए संघर्ष किया है। अभी मुझे यहां की बहुत ऊंचाइयों तक पहुंचना है। उन्होंने भोपाल की तारीफ करते हुए कहा दो साल पहले फिल्म पंगा की शूटिंग के लिए मैं यहां आई थी। कोरोना के बाद शूटिंग एक अलग चैलेंज है । मैंने मध्यप्रदेश में भी पहले कई फिल्में शूट की हैं। मुझे लगता है यह जगह सबसे शूटिंग फ्रेंडली है। जैसा कि भोपाल के बारे में कहा जाता है की यह सिटी ऑफ  लेक्स है मुझे वापस आकर लगा ही नहीं कि यह शहर कभी बंद हुआ था।

बहादुर बेटियों को एमपी सैल्यूट करता है: उषा ठाकुर

 

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कंगना रनोट को सम्मानित किया। इस दौरान उन्होंने कहा पूरे देश को आप पर गर्व है कि हमारे यहां ऐसी बहादुर बेटियां हैं और हर फील्ड में हैं। मैं आपका अभिनंदन करती हूं। उन्होंने कहा कि ऐसी बहादुर बिटिया को मध्यप्रदेश सैल्यूट करता है।