MAMC के बैचलर्स स्टूडेंट्स के लिए हुआ अभिसंस्करण कार्यक्रम

 18 Oct 2020 01:00 AM  164

मानसरोवर आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर द्वारा अपने पहले बैचलर्स डिग्री बैच के भावी आयुर्वेद चिकित्सकों को समाज के प्रति उनके कर्तव्य एवं दायित्यों के निर्वहन के लिए जागरूक करने के उद्देश्य से तीन दिवसीय अभिसंस्करण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसका शुभारंभ आरोग्य भारती के अखिल भारतीय संगठन सचिव,डॉ. अशोक कुमार वार्ष्णेय के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रो. टीआर थापक, कुलपति, महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय और प्रो. अखिलेश कुमार पांडे, कुलपति, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन उपस्थित रहे। मानसरोवर ग्लोबल विश्वविद्यालय के प्रति कुलाधिपति इंजी. गौरव तिवारी ने समारोह की अध्यक्षता की। मुख्य अतिथि डॉ. अशोक कुमार वार्ष्णेय ने कहा कि मनुष्य के विकास के क्रम में बहुत सारे टर्निंग पॉइंट आते हैं और जब किसी भी व्यक्ति के जीवन में टर्निंग पॉइंट आता है तो वह व्यक्ति को याद दिलाता है कि आप कहां पर हो। वह उसके लिए एक समीक्षा का अवसर होता है। कार्यक्रम में मानसरोवर आयुर्वेदिक कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. अनुराग सिंह राजपूत ने स्वागत उद्बोधन दिया और तीन दिवसीय अभिसंस्करण कार्यक्रम की रूपरेखा साझा की। आखिर में कॉलेज की डीन एकेडमिक डॉ. मनीषा राठी ने आभार व्यक्त किया। इस कार्यक्रम में श्री सांई इंस्टीट्यूट आफ आयुर्वेदिक रिसर्च एंड मेडिसिन के प्रिंसिपल डॉ. भरत चैरागड़े, फैकल्टी आफ आयुर्वेद मानसरोवर ग्लोबल विश्वविद्यालय के प्रिंसिपल डॉ. बाबुल ताम्रकार, वरिष्ट प्रोफेसर डॉ. एनके प्रसाद, फैकल्टी आफ एग्रीकल्चर के डीन डॉ. संदीप बनर्जी और सभी शिक्षक, चिकित्सक और स्टूडेंट्स उपस्थित रहे।