प्रभावी शिक्षण के लिए ऑनलाइन आईसीटी उपकरण होगा उपयोगी

 17 May 2021 01:51 AM

द भोपाल स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज के शिक्षा विभाग ने ‘प्रभावी शिक्षण के लिए ऑनलाइन आईसीटी टूल्स’ पर दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया। डॉ.एमएस जेवियर प्रदीप सिंह, सहायक प्रोफेसर पीजी एवं इंग्लिश अनुसंधान विभाग, सेंट जोसेफ कॉलेज, तिरुचिरापल्ली, तमिलनाडु रिसोर्स पर्सन रहे। कार्यशाला का उद्देश्य नवोदित शिक्षकों को ऑनलाइन आईसीटी उपकरणों के साथ शिक्षण में कुशल बनाना था। देश के विभिन्न राज्यों के प्रतिभागियों ने भागीदारी की। कार्यशाला का आयोजन गूगल प्लेटफॉर्म पर किया गया। डॉ.शीना थॉमस ने बताया कि पहले दिन सत्र की शुरूआत कक्षा सामग्री को डिजाइन करने में आईसीटी टूल्स की आवश्यकता के बारे में एक संक्षिप्त परिचय के साथ हुई। रिसोर्स पर्सन ने नियरपॉड पर एक प्रेजेंटेशन के साथ ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी और गतिविधियों के माध्यम से सीखने के लिए बनाए वातावरण में प्रशिक्षित किया और आईसीटी उपकरणों जैसे सुकरात, एडमोडो, क्विजलेट से भी परिचित कराया। नियरपॉड वेबसाइट का उपयोग करके एक इंटेरेक्टिव पाठ बनाने के लिए एक ट्यूटोरियल दिया गया और बोर्ड, खेल, वीडियो क्लिप और 3डी छवियां बनाने का भी प्रशिक्षण दिया गया। नियरपॉड टूल जहां विद्यार्थी की प्रगति को व्यक्तिगत रूप से ट्रैक करता है वहीं शिक्षक द्वारा डिजाइन की गई प्रत्येक गतिविधि के लिए एक विस्तृत रिपोर्ट भी तैयार करता है। वहीं दूसरे दिन सत्र में प्रतिभागियों कोवर्तमान में ऑनलाइन शिक्षण को देखते हुए वेबसाइट और डिजिटल पोर्टफोलियो तैयार करना बताया। डॉ. सिंह ने गूगल साइट्स का उपयोग करके अपनी स्वयं की एक बहुआयामी वेबसाइट को क्यूरेट करने के लिए भी बताया।