जनजातीय संग्रहालय के आठवें वर्षगांठ समारोह से शुरू हुए ऑनलाइन कार्यक्रम

 07 Jun 2021 01:36 AM

जनजातीय लोककला एवं बोली विकास अकादमी द्वारा कोविड- 19 महामारी के दृष्टिगत ऑनलाइन गतिविधियों के प्रसारण का शुभारंभ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जनजातीय संग्रहालय के आठवें वर्षगाठ समारोह के अवसर पर हुआ। वर्षगांठ अवसर पर माननीय मंत्री संस्कृति, पर्यटन एवं अध्यात्म विभाग उषा ठाकुर अपने उद्बोधन में कहा कि कोविड महामारी के इस अवसादपूर्ण वातावरण से प्रदेश के लोग बाहर निकलें, इस हेतु संस्कृति विभाग ने वर्चुअल माध्यम से गमक श्रृंखला प्रारम्भ कर एक सकारात्मक प्रयास किया है, यह संस्कृति और संस्कारों का संरक्षण तो करेगी ही साथ ही कलाकारों का मनोबल बढ़ाएगी एवं आजीविका भी प्रदान करेगी।मासिक शलाका चित्र प्रदर्शनी के अंतर्गत जनजातीय चित्रकारों द्वारा प्रकृति और उससे जुड़े जीवन के विविध आयामों को दर्शाती ऑनलाइन चित्र प्रदर्शनी संयोजित की गई है। प्रदर्शनी विभागीय वेबसाइट पर एक माह के लिए अवलोकनार्थ उपलब्ध रहेगी। आज का कार्यक्रम- 7 जून को शाम 7 बजे से प्रकाश पाठक का शास्त्रीय गायन एवं हनीफ हुसैन तथा जावेद खान का सांरगी वादन विभाग के यूट्यूब चैनल से प्रसारित होगा।