सप्रे संग्रहालय को मिला पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह की किताबों का संग्रह

 20 Feb 2021 01:05 AM

अध्ययनशील राजनेता स्वर्गीय अर्जुन सिंह का विविध विषयों का महत्वपूर्ण ग्रंथ संग्रह अब सप्रे संग्रहालय का हिस्सा बन गया है। वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने 1,100 से अधिक विविध विषयों की पुस्तकें भेंट करते हुए कहा है कि देशभर के विश्वविद्यालयों से आने वाले शोधकर्ता और ज्ञान पिपासु जन इस संग्रह का लाभ उठा सकेंगे। बतौर मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह ने ही 19 जून 1984 को सप्रे संग्रहालय का उद्घाटन किया था। प्राप्त पुस्तकों में अधिकांश अंग्रेजी और हिंदी भाषा की हैं। इनमें हिस्ट्री आॅफ साइंस, फिलॉसफी एंड कल्चर के 17 खण्ड, टूवर्ड्स फ्रीडम के वर्ष 1939, 1945, 46 और 1937-47 के छह खंड, ए सेण्टेनरी हिस्ट्री आॅफ द इंडियन नेशनल कांग्रेस के तीन खण्ड, कई ज्ञानकोश, शब्दकोश और संदर्भ कोश शामिल हैं। कश्मीर, पंजाब, असम जैसी समस्याओं पर संदर्भ की काफी सामग्री प्राप्त हुई है। जॉन एफ. केनेडी, मार्शल टीटो, जुल्फिकार अली भुट्टो, बेनजीर भुट्टो आदि प्रमुख विदेशी राजनेताओं पर केन्द्रित पुस्तकें भी हैं। आर्य समाज, रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद, दलाई लामा पर भी संदर्भ ग्रंथ प्राप्त हुए हैं।