युवाओं ने खेला सितोलिया और गिल्ली डंडा,पतंगों से दिया संदेश

 13 Jan 2021 01:24 AM

साल 2021 की मकर सक्रांति, लोहड़ी, पोंगल,ओणम को प्रकृति एवं पर्यावरण के साथ यादगार बनाने के लिए मध्य प्रदेश जल एवं भूमि प्रबंध संस्थान (वाल्मी) में आओ करें प्रकृति संरक्षण की क्रांति कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें पतंगबाजी  प्रतियोगिता हुई, जिसमें पतंगों के माध्यम से जल एवं पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। सितोलिया एवं गिल्ली डंडा इत्यादि ग्रामीण खेलकूद गतिविधियां भी आयोजित हुई, जिसमें बड़ी संख्या में युवाओं ने भाग लिया।

कैच द रेन का हुआ शुभारंभ नेहरू युवा केंद्र

भोपाल द्वारा जल शक्ति मिशन अंतर्गत राष्ट्रीय युवा दिवस पर 'कैच द रेन' कार्यक्रम का शुभारंभ अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव के मुख्य आतिथ्य में किया गया।

सालों बाद की पतंगबाजी

आज मैंने और मेरे फ्रेंड्स के साथ पतंगबाजी की। आज के समय में यह सिर्फ गांव तक ही सीमित रह गई है। अर्बन एरिया में अब कम ही लोग पतंगबाजी करते हैं। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी अच्छे रहे।

बचपन के दिन याद आए

यह एक अलग एक्सपीरियंस था, आज बहुत समय बाद गिल्ली डंडा खेला। बचपन के दिन याद आ गए जब दोस्तों के साथ खेला करते थे। वाल्मी में इस तरह का आयोजन सभी मायनो में अच्छा रहा।